सहारनपुर : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश की पिछली सरकारों ने भ्रष्टाचार के स्मारक खड़े किए हैं। माफियाराज पनपा। सरकार ने सवा साल के कार्यकाल में जनता को इससे निजात दिलाई है। इतने समय में हमने जाना है कि सड़कें और बिजली भी यूपी की पहचान बन सकते हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार की शाम साउथ सिटी में शिलान्यास समारोह के बाद जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान हाइवे निर्माण को लेकर उन्होंने भाजपा सांसद राघव लखनपाल शर्मा का नाम लिया। कहा कि राघव, सुरेश राणा सतपाल ¨सह अक्सर इस हाइवे निर्माण के लिए उनके पास आते थे। इसके शिलान्यास के लिए उन्होंने इनके साथ-साथ सभी जन प्रतिनिधियों को बधाई दी। कहा कि पिछले 15 वर्षों में यूपी की पहचान गुम हो गई थी। हर तबके का व्यक्ति परेशान था। जाति के नाम पर व्यवस्था को बांटने का काम होता था। हम जब सत्ता मिली तो प्रदेश की 1.20 लाख किलोमीटर सड़कें गड्ढों में तब्दील थी।

जनता को बिजली नहीं मिल पाती थी। पैसा लेकर भर्ती होती थी। हमने सत्ता में आते ही पिछले सवा साल में भेदभाव को समाप्त किया। हमने किसान, व्यापारी, युवा, हर वर्ग के लिए काम किया और 1.20 सड़कें गड्ढा मुक्त करके बताया कि सड़कें और बिजली भी यूपी की पहचान बन सकती हैं। हमने पुलिस भर्ती निकाली हैं, योग्य युवा आवेदन करें हम नौकरी देंगे। शिक्षकों के लिए नौकरी निकाली है, होमगार्डों व आंगनबाडी की समस्या का निदान किया है। कांग्रेस व यूपीए पर हमला बोलते हुए कहा कि 2004 से 2014 तक राजमार्गों का विकास होता तो आज देश की सूरत कुछ ओर होती। मगर कांग्रेस व यूपीए का एजेंडा विकास नहीं था। मोदी जी के नेतृत्व में नये भारत के निर्माण का जो काम शुरु हुआ है, उसे आगे बढ़ाना होगा। जातिवाद के आधार पर समाज को बांटने वालों से सावधान रहना होगा। पांवधोई के जल स्त्रोत में सहयोग का आश्वासन

मुख्यमंत्री ने शहर के बीच बहने वाली पांवधोई नदी का भी जिक्र किया। कहा कि जल के स्त्रोतों को जीवित करने के लिए सभी को योगदान करना होगा। राज्य सरकार का इसमें भरपूर सहयोग रहेगा। गन्ना किसानों की नब्ज पकड़ी

मुख्यमंत्री ने गन्ना किसानों की समस्या को समझते हुए कहा कि हमनें किसानों के दुख दर्द को समझा और बंद पड़ी दया शुगर मिल को चलवाया। गन्ना भुगतान कराया अब बीडवी चीनी मिल को चलवाने का प्रयास किया जाएगा।

Posted By: Jagran