सहारनपुर, जेएनएन। सीएनआइ चर्च के पादरी नथैनियल दास ने पूर्व पादरी जॉन वैसली सिंह पर चर्च की संपत्ति पर कब्जा व पांच साल के दान आदि धन का ब्योरा न देने का आरोप लगाया है। इतना ही नहीं भूमाफियों के साथ मिलकर संपत्ति बेचने जैसे भी आरोप लगाए हैं। विवाद के कारण पुलिस भी पहुंची।

मिशन कंपाउंड स्थित सीएनआइ चर्च में पादरी नथैनियल ने रविवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि पूर्व पादरी जॉन वैसली सिंह ने तीन महीने पहले पादरी पद से त्यागपत्र दिया था लेकिन आज भी पादरी हाउस में परिवार के साथ रह रहे हैं। पालतू जानवरों से चर्च में आने वाले श्रद्धालुओं को कटवाने की धमकी देते हैं। बदनाम करने की कोशिश भी की जा रही है। नथैनियल दास ने आरोप लगाया कि जॉन वैसली सिंह कुछ भूमाफिया के संपर्क में हैं, जिनकी मदद से वह चर्च की जमीन को बेचने की फिराक में है। पिछले पांच साल में चर्च के दान आदि धन का ब्योरा व जरूरी कागजात न देने के आरोप भी लगाए। प्रेस कांफ्रेंस के कुछ देर बाद चर्च परिसर में पुन: विवाद हो गया तो सदर बाजार पुलिस पहुंची और शांत करवाकर लौट गई।

उधर, पूर्व पादरी जॉन वैसली सिंह से संपर्क करने की कोशिश की मगर बात नहीं हो सकी। उनकी पत्नी वर्षा सिंह ने उनकी तरफ से बताया कि उन्हें सीएनआई द्वारा पोस्ट किया गया है, इसीलिए पादरी हाउस में रहने का अधिकार है। पादरी नथैनियल के साथ उनका मामला कोर्ट में चल रहा है, इसीलिए वह चर्च से जुड़ा कोई भी दस्तावेज उन्हें नहीं देंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस