रामपुर, जेएनएन।  नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में शनिवार को हुई ङ्क्षहसा के मामले में पुलिस पूर्व पालिकाध्यक्ष अजहर खां समेत दो लोगों के खिलाफ मुकदमे दर्ज किए हैं। इनमें 250 को नामजद किया है। 31 लोग गिरफ्तार कर लिए हैं। समाजवादी पार्टी से जुड़े जिया के घर से हथियारों का जखीरा बरामद हुआ है। पुलिस ने 15 तमंचे और एक पिस्टल बरामद कर उसे जेल भेज दिया है। उधर, ङ्क्षहसा के दूसरे दिन भी बाजार बंद रहे। पुलिस फोर्स तैनात रही।

शनिवार को हुआ था जमकर बवाल 

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में रामपुर में शनिवार को जमकर बवाल हुआ था। हाथीखाना चौराहे पर पुलिस और पब्लिक के टकराव में एक युवक की गोली लगने से मौत हो गई थी। पांच लोग घायल हुए थे। दर्जन भर पुलिस कर्मी भी जख्मी हुए थे। भोट थानाध्यक्ष की जीप और छह बाइक भी फूंक दी थी। पुलिस ने तीन मुकदमे दर्ज किए हैं। इनमें एक हाथीखाना चौराहे पर पुलिस पर जानलेवा हमला करने और वाहन फूंकने के आरोप में शहर कोतवाल राजकुमार शर्मा ने दर्ज कराया है। इसमें 116 लोगों को नामजद करने के साथ एक हजार की भीड़ पर मुकदमा कराया गया है। इसमें सपा नेता एवं पूर्व चेयरमैन अजहर खां, सपा नेता व रामपुर गन्ना समिति के चेयरमैन मसूद गुड्डू, सपा नेता मुमताज फूल, खटकान मुहल्ले के सपा से जुड़े जिया अहमद, फैजान, सभासद जियाउर्रहमान बाबू, गुड्डू तंमचा भी शामिल हैं। एवं शहर कोतवाली में ही दूसरा मुकदमा जिला अस्पताल में तोडफ़ोड़ करने का किया गया है। तीसरा मुकदमा गंज थाने में भोट थाना प्रभारी की जीप फूंकने का दर्ज हुआ है। इसमें 25 लोगों को नामजद और करीब पांच सौ अज्ञात हैं। तीनों मुकदमों में करीब दो हजार लोगों को शामिल बताया गया है। मुकदमे दर्ज करने के साथ पुलिस रात भर शरारती तत्वों की धरपकड़ में लगी रही। 60 लोगों को पुलिस ने पकड़ लिया। 

उपद्रवियों की संपत्ति जब्त होगी, रासुका भी लगेगी

उपद्रवियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उनकी संपत्ति जब्त की जाएगी। 25 लोगों की पहचान कर ली गई है। उनकी संपत्ति भी जब्त कर ली जाएगी। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामभरत तिवारी संपत्ति जब्त करने की प्रक्रिया पूरी कराएंगे। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार ङ्क्षसह और पुलिस अधीक्षक डॉ. अजयपाल शर्मा ने संयुक्त रूप से प्रेसवार्ता के दौरान यह जानकारी दी। जिलाधिकारी ने बताया कि शरारती तत्वों ने शहर का माहौल खराब करने की कोशिश की है। इसके पीछे राजनीतिक लोगों का हाथ है। उन्हें किसी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। बच्चों और युवाओं को आगे कर पुलिस पर हमला कराया गया। ऐसे तत्वों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत भी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि हम रामपुर को विकास की राह पर ले जाना चाहते हैं। लेकिन, कुछ लोग माहौल बिगाडऩे का प्रयास कर रहे हैं। ऐसा किसी हालत में नहीं होने दिया जाएगा। कुछ बाहरी तत्वों का भी ङ्क्षहसा में हाथ रहा है। उनका भी पता लगाया जा रहा है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस शरारती तत्वों की गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश दे रही है। 31 लोग गिरफ्तार कर लिए हैं। वीडियो और फोटो देखकर अपराधियों की पहचान की जा रही है। शरारती तत्वों ने पुलिस पर हमले के दौरान सुतली बम का भी प्रयोग किया, जिससे दो लोगों के हाथ भी झुलस गए। इनका इलाज चल रहा है। इन लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई होगी। समाजवादी पार्टी से जुड़े मुहल्ला खटकान निवासी जिया अहमद के के पास से 15 तमंचे और एक पिस्टल बरामद की है। इसके साथी फैजान को भी गिरफ्तार किया है। जांच पड़ताल में पता लगा है कि शुक्रवार की रात जगह-जगह मीङ्क्षटग कर युवाओं को उकसाया गया। पुलिस पर हमले के लिए तैयार किया गया। उकसाने वालों की भी पहचान की जा रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने फायङ्क्षरग नहीं की, बल्कि आंसू गैस के गोले दागे और रेपिड एक्शन फोर्स के जवानों ने रबड़ की बुलेट चलाई। कुछ लोगों ने आंसू गैस के गोले भी वापस पुलिस पर फेंकने की कोशिश की।

 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस