पटवाई थाना क्षेत्र का मामला, पीड़िता ने एसपी से की शिकायत

जागरण संवाददाता, रामपुर : दहेज का मुकदमा वापस न लेने पर पति ने महिला को तीन तलाक दे दिया। पुलिस ने कार्रवाई नहीं की, जिस पर पीड़िता ने पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र दिया है। पीड़िता पटवाई थाना क्षेत्र के ठाकुरद्वारा गांव की गुलाशमिन पुत्र इस्माइल है। महिला ने एसपी को दिए प्रार्थना पत्र में कहा है कि उसकी शादी 17 फरवरी 2018 को गंज कोतवाली क्षेत्र के बिलासपुर गेट जुम्मा कालोनी के फाजिल पुत्र अली अहमद के साथ हुई थी। शादी में हैसियत के मुताबिक दान-दहेज दिया गया था। आरोप है कि पति व ससुराली दहेज से खुश नहीं थे। वे कम दहेज लाने का ताना देते। उसके साथ मारपीट करते थे। 12 जून 2019 को ससुरालियों ने उसे दहेज के लिए मारपीटकर घर से निकाल दिया। वह मायके आ गई और ससुरालियों के खिलाफ महिला थाने में दहेज एक्ट का मुकदमा दर्ज करा दिया। इससे ससुराली और चिढ़ गए। पति उस पर बेहद गुस्सा हुआ। पति ने मुकदमा वापस लेने के लिए दबाव बनाया, लेकिन उसने मना कर दिया। 16 सितंबर की शाम को पति ससुराल पहुंचा और उसे तीन बार तलाक बोल दिया। इसके बाद जान से मारने की धमकी देकर भाग गया। तीन बार तलाक सुनकर महिला और उसके परिजनों के होश उड़ गए। महिला ने इसकी सूचना थाना पुलिस को दी, लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। उधर, पटवाई थाना प्रभारी विजेंद्र सिंह का कहना है कि उन्हें महिला के आने की कोई जानकारी नहीं है। यदि महिला तहरीर देगी तो जरूर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप