रामपुर, जेएनएन। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल ङ्क्षसह यादव ने कहा कि हमारे संगठन के समाजवादी पार्टी में विलय होने की कोई संभावना नहीं है। अगला विधानसभा चुनाव हमारी पार्टी सपा से अलग ही लड़ेगी।

वह दादा मियां की दरगाह लखनऊ के सज्जादानशीन सबाहत मियां के चाचा एवं प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष फरहत मियां के यहां शादी समारोह में शामिल होने आए थे। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। उन्होंने कहा कि पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता के कारण कुछ लोगों में बेचैनी है। इससे बौखलाए लोग तरह-तरह की अफवाह फैलाने में लगे हैं। ऐसे लोगों की ओर से ही जोरशोर से अफवाह फैलाई जा रही है कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का विलय समाजवादी पार्टी में हो जाएगा। यह सरासर गलत है। समाजवादी पार्टी के कुछ खुराफाती लोगों द्वारा यह हरकत की जा रही है। कहा कि 2022 में हमारा संगठन मजबूती के साथ चुनाव लड़ेगा। सपा से विलय नहीं किया जाएगा। यदि आवश्यकता पड़ी तो किसी भी धर्मनिरपेक्ष दल के साथ हम गठबंधन कर सकते हैं। कार्यकर्ता मेहनत के साथ कार्य करें। गांव-गांव, घर-घर जाकर लोगों तक पार्टी की नीतियों को पहुंचाएं और पार्टी को मजबूती प्रदान करें। ईश्वर ने चाहा तो 2022 के चुनाव में जाति व धर्म की राजनीति करने वाली भारतीय जनता पार्टी को सबक सिखाएंगे। इस अवसर पर दिल्ली के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी, उत्तराखंड के अल्पसंख्यक बोर्ड के पूर्व चेयरमैन जाहिद रजा रिजवी, पूर्व मंत्री अनीस अहमद, पूर्व सांसद वीरपाल ङ्क्षसह आदि रहे।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस