जागरण संवाददाता, रामपुर : दीपावली का त्योहार शहर में रविवार को धूमधाम के साथ मनाया गया। सुख-समृद्धि की कामना के साथ शुभ मुहुर्त में लोगों ने अपने-अपने घरों में भगवान लक्ष्मी-गणेश जी की विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना की। इसके बाद घर की चाहरदीवारी, चौराहे और मंदिर में दीये और मोमबत्तियां जलाईं। दीपावली के अवसर पर लोगों ने अपने-अपने घरों, दुकानों और प्रतिष्ठानों को फूलों की माला, बिजली की रंग बिरंगी झालर, कंडील आदि से काफी खूबसूरत ढंग से सजाया। शाम होते ही पूरा शहर दीयों, मोमबत्ती और रंग-बिरंगी झालरों की रोशनी से जगमगाने लगा। लोगों ने पूजन के बाद देर रात तक जमकर आतिशबाजी की।

रोशनी का पर्व दीपावली शहर में काफी उत्साह के साथ मनाया गया। लोग दीपावली की तैयारियों में सुबह से ही जुट गए। पूजा स्थलों की साफ-सफाई की गई। इसके बाद लोगों अपने-अपने घरों, दुकानों, प्रतिष्ठानों आदि को फूलों की माला, कंडील, बिजली की रंग-बिरंगी झालरों आदि से काफी खूबसूरत ढंग से सजाया। घरों को रंगोली से सजाया गया। शाम को लोगों ने अपने-अपने घरों में पूरे परिवार के साथ धन-धान्य की कामना के साथ शुभ मुहुर्त में भगवान लक्ष्मी-गणेश जी का खील, बताशे, खिलौने, मिठाई, पान आदि से विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना की। इसके बाद मंदिर में जाकर पूजन किया, जिससे शाम को मंदिरों में काफी भीड़ रही। इस दौरान घर के आंगन, छत, चौराहे, मंदिर आदि में तेल के दिये और मोमबत्तियां जलाईं। दीपावली के दिन शाम होते ही पूरा शहर दीयों, मोमबत्ती और बिजली की रंग-बिरंगी झालरों की रोशनी से जगमगा उठा। दीपावली पूजन के बाद छोटों ने बड़ों के चरण स्पर्श कर उनका आशीर्वाद प्राप्त किया। एक-दूसरे को मिठाई खिलाई। इस दौरान लोगों ने दूसरे शहरों में रहने वाले रितेश्तेदारों और परिचितों को मोबाइल से दीपावली की शुभकमानाएं दीं। इसके बाद लोगों ने घरों के आंगन, छत और पार्क आदि में जाकर जमकर आतिशबाजी की। शहर में हुई जमकर आतिशबाजी रामपुर : दीपावली पर पूजन के बाद हर साल की तरह इस बार भी लोगों ने घरों के आंगन, छत, पार्क आदि में जाकर देर रात तक जमकर आतिशबाजी हुई। छोटे बच्चों ने फुलझड़ी तो बड़ों ने तेज आवाज वाले पटाखे, राकेट, अनार आदि जलाए। इस दौरान आसमान में सतरंगी छटा बिखरने वाली आतिशबाजी भी जमकर हुई। शहर में गांधी समाधि के पास, अजीतपुर में शाहबाद रोड के किनारे आदि स्थानों पर आतिशबाजी के बाजार लगे थे। इन बाजारों में सुबह से लेकर देर रात तक आतिशबाजी खरीदने के लिए लोगों की भीड़ रही। लोगों ने बच्चों के लिए फुलझड़ी, पेंसिल वाली फुलझड़ी, चकरी खरीदे वहीं युवाओं ने सुतली बम, चटाई, रॉकेट, अनार, चटर पटर आदि की खरीदारी की। बच्चों ने दीपावली के दिन सुबह से ही आतिशबाजी शुरू कर दी। शाम को दीपावली के पूजन के बाद शहर में जमकर आतिशबाजी हुई, जिससे पूरा आसमान रोशनी से जगमगाने लगा। बिजली की रंग-बिरंगी झालरों से जगमगाया शहर रामपुर : रोशनी का पर्व दीपावली शहर में काफी उत्साह के साथ मनाया गया। इस अवसर पर लोगों ने अपने-अपने घरों, दुकानों और प्रतिष्ठानों को बिजली की रंग-बिरंगी झालरों आदि से काफी खूबसूरत ढंग से सजाया था। शाम होते ही पूर शहर रोशनी से जगमगा उठा।

दीपावली की तैयारियों में लोग कई रोज पहले से ही जुटे थे। इसके लिए लोगों ने अपने-अपने घरों में रंगाई-पुताई का काम पूरा होने के बाद दीपावली से पूर्व घरों की सजावट की। इसके लिए लोगों ने बाजार से फूल, कंडील, रंग-बिरंगी झालर, कैलेंडर आदि की जमकर खरीदारी की, जिससे बाजारों में इन दुकानों पर काफी भीड़ रही। लोगों ने फूलों, बिजली की रंग-बिरंगी झालरों आदि से घर, दुकान, मंदिरों को काफी खूबसूरत ढंग से सजाया था। शाम को दीपावली का पूजन करने के बाद जलाए गए दीये, मोमबत्ती और बिजली की रंग-बिरंगी झालरों से पूरा शहर जगमगा उठा। मंदिर में जलाए 5100 दीये रामपुर : पंजाबनगर स्थित श्री नागेश्वर महादेव शिव मंदिर में दीपावली का पर्व धूमधाम के साथ मनाया गया। इस दौरान विधि-विधान के साथ पूजन कर मंदिर परिसर में 5100 दीये जलाए गए, जिससे मंदिर परिसर दीपों की रोशनी से जगमगा उठा। इस मौके पर शकुंतला देवी, पंडित ऋषि ओम महाराज, सर्वेश, राजेश सक्सेना, आशीष, अनुज, अलका, आयुषी, अनुदीप, आकाश, अनुपम, छुटटन सिंह, संतराम, ओमपाल, महेश, राजेंद्र आदि मौजूद रहे। बाजारों में देर रात तक रही भीड़ रामपुर : दीपावली के त्योहार पर रविवार को सुबह से देर रात तक लोगों की बाजारों में भीड़ उमड़ी। दीपावली पूजन के लिए लोगों ने खीलें, खिलौने, बताशे, पान, फूल, मिठाई, मिटटी के दीये, लक्ष्मी-गणेश की मूर्ति, मोमबत्ती आदि खरीदे। बाजार में घरों को सजाने के लिए एक से बढ़कर एक कैलेंडर, फूल, बिजली की रंग-बिरंगी झालरें, कंडील, लैंप आदि मौजूद थे। इन पर लोगों की भीड़ लगी रही। दीपावली के अवसर पर एक-दूसरे को उपहार देने के लिए मिठाई और गिफ्ट देने की परंपरा है। इसके लिए लोगों ने मिठाई, गिफ्ट आइटम, क्रॉकरी आदि की जमकर खरीदारी की, जिससे पूरे दिन इन दुकानों पर भीड़ लगी रही। दीपावली पर गरीबों को बांटी मिठाई रामपुर : श्री रामकृष्ण सेवा समिति की ओर से दीपावली के अवसर पर जगह-जगह गरीब बस्तियों में जाकर गरीबों और असहाय लोगों को मिठाई बांटी गई। इसके अलावा बच्चों को आतिशबाजी उपहार में दी गई, जिसे पाकर लोगों के चेहरे खुशी से खिल गए। इस दौरान राहुल सिंह बग्गा ने कहा कि इन लोगों के साथ दीपावली मनाने का आनंद ही अलग है। इस त्योहार में लोगों को जरूरतमंदों की मदद करनी चाहिए, जिससे वे भी धूमधाम से त्योहार मना सकें। दीपावली खुशी का त्योहार है इसलिए हम सभी को खुशियां बांटनी चाहिए। इस मौके पपर राहुल सिंह बग्गा, मनोज आदि मौजूद रहे। घरों और मंदिरों में गोवर्धन बनाकर किया पूजन रामपुर : घरों और मंदिरों में सोमवार को विधि-विधान के साथ गोवर्धन पूजन हुआ। लोगों ने अपने-अपने घरों में गोबर से गोवर्धन बनाया। घर के सभी सदस्यों ने खील, बताशे और मीठे खिलौने आदि से श्रीकृष्ण जी का स्मरण कर विधि-विधान के साथ गोवर्धन पूजन किया। इस दौरान भगवान श्रीकृष्ण जी के द्वारा गोवर्धन पर्वत उठाने की कथा सुनाई। इसके के बाद कुछ लोगों ने गोशाला में जाकर गायों का तिलक किया और उन्हें हरी घास, मिठाई आदि खिलाई।

मिस्टन गंज अग्रवाल धर्मशाला स्थित मंदिर में दुर्गा देवी ज्वाला जी शक्ति दरबार के महंत पंडित विश्वनाथ प्रसाद मिश्रा ने विधि-विधान के साथ गोवर्धन पूजन किया। इस दौरान उन्होंने गोवर्धन की कथा सुनाई। कहा इंद्र को एक बार अपने ऊपर अभिमान हो गया था, उन्होंने अपना प्रभाव सभी को दिखाने के लिए जमकर बारिश की, जिससे सभी जीव-जंतु, पशु-पक्षी आदि परेशान हो गए। इस पर सभी ने भगवान श्रीकृष्ण जी से रक्षा करने के लिए प्रार्थना की। भगवान श्रीकृष्ण जी ने इन्द्र का अभिमान तोड़ने के के लिए गोवर्धन पर्वत को सात दिनों तक अपनी उंगली पर उठाकर रखा और सभी की रक्षा की, जिससे गोवर्धन की हर साल पूजा की जाती है। कहा जाता है कि गोवर्धन पूजन करने से धन-धान्य की प्राप्ति के साथ ही पशु स्वस्थ रहते हैं। इस दौरान सभी ने भगवान श्रीकृष्ण जी के जमकर जयकारे लगाए। अंत में आरती के बाद सभी को प्रसाद वितरित किया गया। उधर गोवर्धन के अवसर पर गोसेवक संदीप अग्रवाल, सौरभ अरोरा, सुमित मित्तल, बाबू, लल्ला आदि ने गोशाला में जाकर गायों को हरा चारा, सब्जी आदि खिलाकर गोसेवा की। सात फिट का गोवर्धन बना आकर्षण का केंद्र रामपुर : पंचगव्य गौ अनुसंधान केंद्र की गोसेवा टीम की ओर से गोवर्धन पूजन अलग अंदाज में किया गया। इस दौरान टीम के द्वारा 7 फिट के गोवर्धन बनाए गए, जो आकर्षण का केंद्र रहा। गोसेवकों ने गोवर्धन का विधि-विधान के साथ पूजन किया। इसके बाद 56 भोग लगाया गया। इस दौरान भजन संध्या हुई, जिसमें भजन गायकों ने सुंदर-सुंदर भजन सुनाए। गोसेवक सजल अग्रवाल ने बताया कि हमारी टीम के द्वारा गोबर की लक्ष्मी-गणेश की मूर्तियां भी बनाई जाती है, जिसे लोग खूब पसंद करते हैं। इस बार सात फिट का गोवर्धन बनाकर पूजा-अर्चना की गई। सात फिट का गोवर्धन लोगों को काफी पसंद आया।

उधर पुराना गंज स्थित माई का थान मंदिर में यादव युवा समिति की ओर से गोवर्धन महोत्सव धूमधाम के साथ मनाया गया। इसमें मुरादाबाद की सुनीता शर्मा ने श्याम के सुंदर-सुंदर भजन सुनाए, जिन्हें सुन सभी झूम उठे। इस दौरान सुंदर-सुंदर झांकियां सजाई गईं, गोवर्धन पर्वत बनाया गया, जिसकी सभी ने परिक्रमा की। इस मौके पर सनी, नरेश कुमार यादव, अनिल यादव, नवरतन यादव, विनोद, उमेश, सूरज, मुकेश आदि मौजूद रहे। गोवर्धन पूजन के बाद हुआ भंडारा रामपुर : रामपुर उपकार की ओर से सोमवार को बाबा लक्ष्मण दास की समाधि पर गोवर्धन पूजन किया गया। इस दौरान भजन-कीर्तन के बाद भंडारा आयोजित किया गया, जिसमें काफी संख्या में लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। इस मौके पर विकास सक्सेना, संकेत अग्रवाल, अमित गुप्ता, भारत पावा, शलभ गुप्ता, मोहित गुप्ता, संजय गर्ग आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस