जागरण संवाददाता, रामपुर: करवा चौथ पर सुहागिन महिलाओं ने पति की दीर्घायु के लिए बृहस्पतिवार को उपवास रखा। शाम होते ही पूजा की तैयारियां को अंतिम रूप दिया। इसके बाद सुहागिन महिलाओं ने सोलह श्रृंगार किया और चंद्रमा निकलने का इंतजार करने लगीं। जैसे ही चंद्रमा निकला तो सभी ने विधि-विधान के साथ पूजन कर चंद्रमा को अ‌र्घ्य दिया और पति की दीर्घायु के लिए कामना की। इसके बाद बायना निकालकर बड़ों के चरण स्पर्श कर उनका आशीर्वाद प्राप्त किया।

करवा चौथ की तैयारियों के लिए महिलाएं पिछले कई दिनों से जुटी थीं। बृहस्पतिवार को भी महिलाओं ने एक-दूसरे के हाथों पर मेंहदी रचाई। बाजार में जाकर पूजन सामग्री, करुआ, सींक, करवा चौथ का कैलेंडर, चलनी आदि की खरीदारी की, जिससे पूरे दिन इन दुकानों पर महिलाओं की भीड़ लगी रही। घरों में पूजन कर बायना निकालने के लिए कई तरह के पकवान बनाए। पूजन की सभी तैयारियां पूरी करने के बाद सुहागिनों ने सोलह श्रृंगार किया। कुछ घरों में महिलाओं ने एक-दूसरे का श्रृंगार किया तो कुछ महिलाएं सजने के लिए ब्यूटी पार्लर गईं, जिसके चलते ब्यूटी पार्लर पर काफी भीड़ बढ़ गई। कुछ स्थानों पर महिलाओं को नंबर लगवाने पड़े। ऐसे में कई स्थानों पर काफी देर तक इंतजार करने के बाद महिलाओं का नंबर आया। इससे पूरे दिन ब्यूटी पार्लरों में महिलाओं की भीड़ लगी रही। घरों में महिलाओं ने चंद्रमा के निकलने से पूर्व ही पूजन की सारी तैयारी पूरी कर लीं और चंद्रमा के निकलने का इंतजार शुरु कर दिया। जैसे ही चंद्रमा निकला तो सुहागिनों ने चंद्र दर्शन कर विधि-विधान के साथ पूजा करने के लिए घरों की छत, आंगन, पार्कों आदि का रुख किया। सुहागिनों ने चंद्रमा को अ‌र्घ्य दिया और दीपक जलाकर पति की दीर्घायु की कामना की। इसके बाद घर के पूजा स्थल पर पकवान, मिष्ठान आदि का बायना निकालकर परिवार की मान्य महिला को दिया। घर के सभी बड़ों के चरण स्पर्श किए और उनका आशीर्वाद प्राप्त किया। इसके बाद सुहागिनों ने उपवास खोले। कुछ सुहागिनों की पहली करवा चौथ थी वहां पर त्योहार काफी उत्साह के साथ मनाया गया। ऐसे में लोगों ने आतिशबाजी की। इस दौरान शहर के सभी बाजारों में काफी रौनक रही। करवा चौथ पर बाजारों में उमड़ी भीड़ जागरण संवाददाता, रामपुर : करवा चौथ पर शहर के सभी बाजारों में लोगों की भीड़ उमड़ी। लोगों ने पूजन सामग्री के अलावा गिफ्ट भी खरीदे, जिससे सर्राफा बाजार, साड़ियों आदि की दुकानों पर पूरे दिन भीड़ रही।

सुहागिन महिलाएं पति की दर्घायु के लिए करवा चौथ का व्रत रखती हैं। इस दिन पति अपनी पत्नियों को कुछ न कुछ उपहार में देते हैं। ऐसे में शहर के प्रमुख बाजारों मिस्टन गंज, ज्वालानगर, सिविल लाइंस, सर्राफा बाजार आदि में पूरे दिन लोगों की भीड़ रही। जिन लोगों का पहला करवा चौथ था उनमें काफी उत्साह देखा गया। ज्यादातर लोग अपनी पत्नी को करवा चौथ पर नई साड़ी उपहार में देने के लिए दुकानों पर साड़ी पसंद करते दिखाई दिए। इन दुकानों पर ग्राहकों को लुभाने के लिए एक से बढ़कर एक साड़ियां थीं। लोगों ने अपने बजट के हिसाब से साड़ियां खरीदीं, जिससे साड़ियों की सभी दुकानों पर लोगों की काफी भीड़ लगी रही। इसके अलावा कुछ लोगों ने करवा चौथ पर पत्नी को उपहार देने के लिए सर्राफा बाजार का रुख किया। सर्राफा बाजार में चांदी, सोने के आभूषणों की आम दिनों के मुकाबले काफी बिक्री हुई। लोगों ने अपने-अपने बजट के अनुसार सोने चांदी के आभूषण खरीदे। इसके अलावा करवा चौथ के पूजन के लिए पूजन सामग्री, मिठाई, फल, फूल आदि की दुकानों पर भी पूरे दिन भीड़ रही।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस