जागरण संवाददाता, बिलासपुर : प्रदेश के जलशक्ति राज्यमंत्री बल्देव सिंह औलख कहा कि छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के साथ-साथ सांस्कृतिक कार्यक्रमों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए, जिससे उनकी प्रतिभा में निखार आएगा। वह रविवार को गांव मानपुर ओझा में स्थित विद्यालय में आयोजित वार्षिकोत्सव में मुख्यातिथि पद से बोल रहे थे। कहा कि बच्चे देश का भविष्य है। इसलिए बच्चों को अधिक से अधिक शिक्षित बनाना चाहिए। उन्हें शिक्षा के प्रति समय-समय पर जागरूक करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में शिक्षित होना बेहद जरूरी है। अशिक्षा एक अभिशाप की तरह है। इसे किसी भी हालत में स्वीकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने अभिभावकों से अपने-अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा ग्रहण कराने का आहवान किया। इससे पहले राज्यमंत्री, जिलाध्यक्ष अभय गुप्ता एवं विद्यालय प्रबंधक निर्मल मजूमदार ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। विद्यालय के प्रधानाचार्य प्रकाश मंडल ने मुख्यातिथियों को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया।

जिला उपाध्यक्ष चित्रक मित्तल, पूर्व जिला उपाध्यक्ष संतोष सिंह खैहरा, क्रय-विक्रय समिति के सभापति रवि यादव, हरवंश सिंह तनेजा, हरजिदर सिंह, जगपाल सिंह, सतपाल सिंह, रविद्रनाथ सिकदार, सुखविदर सिंह, जगतपाल सिंह, दीपांकर बैरागी आदि रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस