रामपुर। प्रशासन ने पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मशकूर अहमद मुन्ना और उनके भाई को सरकारी जमीन पर बार-बार कब्जा करने के आरोप में भूमाफिया के अंतर्गत कार्रवाई की है। शहजादनगर थाने में दोनों भाइयों के खिलाफ मुकदमा कराया है। 

पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष और उनके भाई पर आरोप है कि उन्होंने अपने गांव ककरौआ में उद्यान विभाग की जमीन पर पिछले 10 सालों से कब्जा किया हुआ है। उद्यान निरीक्षक जगजीत सिंह की ओर से इस मामले में थाने में मुकदमा लिखाया है, जिसमें कहा है कि विभाग की इस जमीन पर दोनों भाई अनाधिकृत रूप से कब्जा कर खेती करते हैं। कई बार इस जमीन को कब्जामुक्त कराया गया, लेकिन दोनों भाई बार-बार दोबारा कब्जा कर लेते हैं। चार सितंबर को भी राजस्व टीम ने उद्यान विभाग के कर्मचारियों, पुलिस और ग्रामीणों की मौजूदगी में जमीन की पैमाइश कर कब्जामुक्त कराया था, लेकिन बाद में फिर दोनों भाइयों ने जमीन पर कब्जा कर लिया। शासन के स्पष्ट निर्देश हैं कि सरकारी जमीनों को कब्जामुक्त किया जाए और भू-माफिया के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई की जाए। आरोपित भाइयों द्वारा बार-बार सरकारी जमीन पर कब्जा करने का कृत्य भू-माफिया की श्रेणी में आता है। शहजादनगर थाना प्रभारी परवेज कुमार चौहान ने बताया कि उद्यान निरीक्षक की शिकायत पर आरोपित भाइयों के खिलाफ भू-माफिया और सार्वजनिक संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस