रायबरेली : खीरों थाना क्षेत्र के कस्बा स्थित ़फतेह शहीद शाह की मजार के परिसर में बनी सीमेंट की पानी की टंकी रविवार को फट गई। उसके मलवे के नीचे दबकर एक मासूम बच्ची की मौत हो गई। जबकि उसकी मां घायल हो गई। बिना किसी कानूनी कार्रवाई के परिवारजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया।

कस्बा में फतेह शहीद शाह की मजार है। मजार परिसर में प्रत्येक गुरुवार को दूर दराज से सैकड़ों जायरीन आकर मन्नत मानते और चादर चढ़ाते हैं। तमाम लोग यहां रहते भी हैं। लोगों की सुविधा के लिए मजार समिति ने यहां एक सीमेंट की पानी की टंकी बनवाई थी। करीब पांच फिट ऊंचाई पर टंकी बनी थी। जिसमें नीचे टोटी लगी है। जिससे लोग पानी भरते हैं। बाराबंकी जनपद के थाना क्षेत्र सफदरगंज के गांव मिर्जापुर निवासी मुसर्रत अली इसी परिसर में झोपड़ी बनाकर परिवार के साथ रहता है। परिवार में उसकी पत्नी खुशनुमा, बेटा आर्यन (10), आजम (छह वर्ष) और बेटी सांवली (आठ वर्ष) शामिल हैं। रविवार की दोपहर खुशनुमा अपनी बेटी सांवली के साथ टंकी से पानी लेने गई थी। तभी अचानक सीमेंट की टंकी फट गई। सांवली और उसकी मां खुशनुमा उसके मलबे के नीचे दब गई। लोगों ने मशक्कत के बाद दोनों को निकाला और सीएचसी पहुंचाया। जहां डाक्टरों ने सांवली को मृत घोषित कर दिया। उसकी मां को इलाज के बाद छुट्टी दे दी।

थानाध्यक्ष अतुल गुप्ता ने बताया कि पानी की टंकी गिरने से बच्ची की मौत की सूचना मिली थी। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो बच्ची का अंतिम संस्कार हो चुका था। परिवार वालों ने किसी भी तरह की कार्रवाई करने से इंकार कर दिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप