रायबरेली (जेएनएन)। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी मां सोनिया गांधी भुएमऊ गेस्टहाउस से निकलकर पहुंची डाकघर। यहां उन्होंने पासपोर्ट दफ्तर का किया उद्घाटन। उसी के पास कलेक्ट्रेट स्थित बचत भवन में गईं अनुश्रवण समित की बैठक में शामिल हुई। उनके साथ कार में सदर विधायक अदिति सिंह भी बैठी थी। जबकि ज्यादातर नेता गेस्टहाउस में ही मौजूद हैं। यहां से थोड़ी ही देर में राहुल गांधी निकलकर सलोन विधानसभा क्षेत्र के टेकारी दांदू में राहुल ने लगायी चौपाल। गांव घूमे, जो भी समस्या लेकर आया, उसकी बात सुनी। दरवाजे तो किसी के घर जाकर जाना हाल। बदले अंदाज़ में दिखे युवराज, ग्रामीणों ने लगाए जिंदाबाद के नारे। इसके अलावा उन्होंने माध्यमिक स्कूल के बच्चों के साथ भी समय बिताया। 

ठहरी शहर से करीब चार किलोमीटर दूर स्थित भुएमऊ गेस्ट हाउस में ठहरी है। यहां पर राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी मां सोनिया गांधी से मिलने के लिये गेस्ट हाउस के बाहर गाड़ियों का रेला लगा है। मीडिया के लोग भी बाहर ही खड़े हैं। कुछ भारतीय जनता पार्टी लिखी गाड़ियां भी गेस्ट हाउस के बाहर खड़ी है। इस दौरान सोनिया गांधी तबियत ठीक न होने से लोगों से नहीं मिल रही हैं। जबकि राहुल गांधी सभी से मिल रहे है।

इस दौरान सदर विधायक अदिति सिंह की गाड़ी भी बाहर रोकी गई। वाहन छोड़कर वे गेस्ट हाउस में पैदल गईं। जिससे उनके समर्थक नाराज हुए। समर्थक ने राहुल और राजीव गांधी का टैटू बनवाया। मीडिया को दिखा रहा है। गेस्ट हाउस के बाहर खासी भीड़। इसके अलावा राकेश बहादुर सिंह सचिव कांग्रेस को अंदर नहीं जाने दिया गया। वे हुए नाराज। बोले इस्तीफा दे दूंगा। कांग्रेस की महिला कार्यकर्ताओं ने डपटा राकेश को।

 बताते चलें कि कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली के दो दिवसीय दौरे पर है। वह आज गेस्ट हाउस में ही विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करने के बाद आम जनता से मुलाकात करेंगी। उसके बाद वह मुख्य डाकघर में डाकघर पासपोर्ट सेवा केन्द्र का उद्घाटन करेंगी और फिर बचत भवन में आयोजित जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति की बैठक की अध्यक्षता करेंगी। आज होने वाले कार्यक्रमों में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी सोनिया के साथ मौजूद रहेंगे। इससे पहले राहुल 16 और 17 अप्रैल को अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी के दौरे पर थे।

Posted By: Ashish Mishra