रायबरेली : अपराधियों में पुलिस का कोई खौफ नहीं रह गया है। शहर की स्थिति यह है कि महिलाएं घर और मुहल्लों में भी सुरक्षित नहीं रह गई। मंगलवार को एक बुजुर्ग महिला की न सिर्फ स्नेचरों ने सोने की चेन छीन ली। बल्कि छीनाझपटी में ऐसे ढकेला कि महिला का हाथ टूट गया।

शहर के नेहरू नगर में रहने वाले बीएन सिंह जिला अस्पताल में फार्मासिस्ट के पद पर तैनात हैं। सुबह वह ड्यूटी पर गए थे। उनकी मां विद्या सिंह (65) दरवाजे धूप में बैठी थी। फार्मासिस्ट के अनुसार दो युवक किसी गुप्ता ठेकेदार का पता पूछने आए थे। एक बार आए तो उनकी मां ने जानकारी न होने की बात कहकर वापस कर दिया। करीब 15 दिन बाद युवक फिर लौटे और पता पूछने लगे। उनकी मां जैसे ही घर के अंदर आने के लिए मुड़ी, तभी एक युवक ने गले में पड़ी सोने की चेन छीन ली और धक्का देकर गिरा दिया। जिससे गिरने के कारण उनके दाहिने हाथ की हड्डी टूट गई। छीनी गई चेन की कीमत 50 हजार बताई जा रही है।

चंद कदम पर चौकी, 30 मिनट में पहुंची पुलिस

फार्मासिस्ट के घर से इंदिरा नगर चौकी की दूरी करीब 500 मीटर है। ऐसे में पुलिस मौके तक पांच मिनट में पहुंच सकती थी। खाकी को तत्काल सूचना दी जा चुकी थी। मगर, पुलिस को आने में 30 मिनट लग गए। लोगों का कहना है कि पुलिस अगर समय पर पहुंचती तो शायद घेरे बंदी करके स्नेचरों को पकड़ा जा सकता था।

इनकी भी सुनें

एक महिला के साथ स्नेचिग हुई है। मामले की तहरीर मिली है। केस दर्ज करके जांच की जा रही है। जल्द ही स्नेचरों को पकड़ लिया जाएगा।

-अतुल कुमार सिंह,

शहर कोतवाल

Posted By: Jagran