रायबरेली : शहर कोतवाली के खपरमलंग में 27 सितंबर की रात युवक की बेरहमी से हत्या करने वाले चार हमलावरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस राजफाश में शहर पुलिस के साथ सर्विलांस व स्वाट टीम की भूमिका अहम रही।

एएसपी शशिशेखर सिंह ने पत्रकारों से वार्ता में बताया कि तेलियाकोट निवासी शहनवाज (22) पुत्र निशार अहमद का शव 28 सितंबर की सुबह खपरमलंग कब्रिस्तान में मिला था। उसका गला चाकू से रेता गया था। शरीर पर लगभग 40 घाव मिले थे। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने उसके हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया है। वारदात का मुख्य साजिशकर्ता सैफी खान पुत्र रज्जन खान निवासी किला बाजार है। वह शहनवाज की एक रिश्तेदार को लगातार परेशान कर रहा था। जिस पर दोनों के बीच पहले झगड़ा हो चुका था। सैफी ने शहनवाज के दोस्त शरफराज खान उर्फ बाबू पुत्र हबीबुल रहमान निवासी रेलवे स्टेशन के निकट को अपनी तरफ मिला लिया। शरफराज ही 27 सितंबर की शाम शहनवाज को अपने साथ बाइक पर बिठाकर खपरमलंग कब्रिस्तान लेकर आया। सैफी भी उन्हीं के साथ बाइक पर आया। जबकि मोहम्मद उजैर उर्फ अन्ना और राशिद उर्फ शाबान निवासीगण किला बाजार दूसरी बाइक से कब्रिस्तान पहुंचे। चारों ने मिलकर पहले शहनवाज का गला चाकू से रेता फिर उसके शरीर पर कई वार किए। उसकी मौत होने पर चारों भाग निकले थे। उनके पास से दो चाकू, शहनवाज के कागजात बरामद किए गए हैं।

राजफाश में शहर कोतवाल अतुल सिंह, एसएसआइ संजय सिंह, सर्विलांस प्रभारी अमरेश त्रिपाठी, दुर्गेश सिंह, रामाधार, कौशल किशोर, संतोष कुमार सिंह, सौरभ पटेल, जीतेंद्र कुमार ने बेहतरीन काम किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस