विद्यार्थियों के खाते में अब पहुंचेंगे 1200 रुपये

रायबरेली : परिषदीय विद्यालयों के विद्यार्थियों को अब यूनीफार्म, स्वेटर, स्कूल बैग, जूते-मोजे के साथ स्टेशनरी की भी पैसा मिलेगा। इस पर शासन से मुहर लग गई है। अब विद्यार्थियों के अभिभावकों के खाते में डीबीटी के 1100 के बजाय 1200 रुपये मिलेंगे। शिक्षा विभाग ने पहले फेज में छात्रों की सूची भी शासन को भेज दी है। प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों के कक्षा एक से आठ के छात्रों को शासन की ओर से अभी तक यूनीफार्म, स्वेटर, स्कूल बैग, जूते-मोजे के लिए 1100 रुपये मिलते थे। यह धनराशि विद्यार्थियों के अभिभावकों के खाते में भेजी जाती थी। इस बार शासन ने डीबीटी को बढ़ाकर 1200 रुपये देने का निर्णय लिया है। इसमें अभिभावक यूनीफार्म, स्वेटर, स्कूल बैग, जूते-मोजे के साथ स्टेशनी में चार कापियां, दो पेंसिल, दो पेन, चार रबर, चार कटर खरीद सकेंगे। स्टेशनरी के लिए 100 रुपये बढ़ाए गए हैं। जिलेभर के परिषदीय विद्यालयों में शिक्षा ले रहे 2,97,788 छात्रों को इसका लाभ मिलेगा। यह धनराशि सीधे अभिभावकों के खाते में भेजी जाएगी। शिक्षा विभाग की ओर से पहले फेज में विद्यार्थियों को लाभ दिलाने के लिए 2,15,360 छात्रों का डाटा शासन को भेजा गया है। इन विद्यार्थियों के अभिभावकों के खाते में पैसा पहुंचने के बाद दूसरे फेज में बचे हुए विद्यार्थियों का डाटा भेजा जाएगा। वर्जन, डीबीटी की धनराशि में बढ़ोतरी की गई है। पहले फेज में विद्यार्थियों का डाटा भेजा गया है। शेष विद्यार्थियों को दूसरे फेज में पैसा मिलेगा। अभिभावकों को इस बार 1200 रुपये मिलेंगे। शिवेंद्र प्रताप सिंह, बेसिक शिक्षा अधिकारी

Edited By: Jagran