जासं, रायबरेली : इंदिरा नगर में वीरपाल ¨सह कोठी प्रांगण में जनकल्याण समिति की बैठक सोमवार को हुई। बैठक में ऊंचाहार विधायक भी शामिल हुए। इस अवसर पर आरडीए की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगाते हुए आंदोलन की बात कही गई।

वीरपाल कल्याण समिति के पदाधिकारी आशुतोष पांडेय ने बताया कि मौजूदा समय में इंदिरा नगर में सवा सौ परिवारों को आरडीए बिना वजह नोटिस भेज रहा है। इन परिवारों ने जमीन खरीदने के बाद यहां मकान बनवाया। अगर आरडीए को शिकायत है तो जिन लोगों ने जमीन बेची, उन्हें नोटिस भेजी जाए। उन्होंने ये भी कहा कि राजस्व अभिलेखों में अभी भी आरडीए का नाम दर्ज नहीं है फिर भी शांतिपूर्ण ढंग से जीवनयापन कर रहे आमजनमानस को परेशान किया जा रहा है। उन्हें नोटिस भेजकर वसूली करने के लिए दबाव बनाया जा रहा है, जो कि गलत है। अगर ये बंद न हुआ तो आंदोलन किया जाएगा। ऊंचाहार विधायक डा मनोज पांडेय ने भी आमजनता के लिए आंदोलन में भी सक्रिय भूमिका अदा करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर अरुणेंद्र प्रताप ¨सह, राजेश श्रीवास्तव, वरिष्ठ अधिवक्ता रामानुज शर्मा, राम गोपाल श्रीवास्तव, विजय चौरसिया, रतन ¨सह, राजेश मिश्र, कृष्ण मुरारी वर्मा, मोहनलाल गुप्ता, विकास ¨सह, विजयकांत त्रिपाठी, शत्रोहन मिश्र आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran