रायबरेली, जेएनएन। लखनऊ-प्रयागराज नेशनल हाईवे पर रविवार की देर सड़क हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। मासूम समेत तीन लोग जख्मी हैं। ये सभी एक कार में सवार थे, जो सामने से आ रहे डंफर से टकरा गई। दो लोगों की हालत नाजुक देख डॉक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया, जबकि एक सीएचसी में भर्ती है।

ऊंचाहार कोतवाली क्षेत्र के अरखा गांव निवासी फूलचंद्र गुप्ता के घर तेरहवीं थी। हसनगंज गांव निवासी रामराज (40), उसकी पत्नी रामावती (38), लालचंद्र (40) और महराजगंज कोतवाली क्षेत्र का रहने वाला सुनील जायसवाल एक ही कार से फूलचंद्र के घर गए। हसनगंज के ही परशीष का छह वर्षीय बेटा आयुष भी उनके साथ कार में था। बताते हैं कि लखनऊ-प्रयागराज हाईवे पर पहलवान बीर बाबा मोड़ के निकट इलाहाबाद की तरफ से आ रहे एक डंपर से उनकी कार की भिड़ गई। कार चला रहे सुनील और आगे बैठे रामराज की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि मासूम समेत शेष तीनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

हाईवे पर लग गया जाम

हादसे के बाद डंपर चालक मौके से भाग निकला। करीब 45 मिनट तक हाईवे पर जाम लगा रहा। सूचना पर कोतवाल धर्मेंद्र दुबे फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। किसी तरह जाम हटवाया गया।

कार को काट कर निकाले गए घायल

सारे प्रयास फेल होने के बाद पुलिस और ग्रामीणों ने कार को काटना शुरू किया। कार के हिस्सों को काटकर घायलों को निकालने की जगह बनाई। एक-एक सभी पांचों लोगों को निकालकर सीएचसी पहुंचाया गया, तो वहां दो लोगों को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

Posted By: Umesh Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप