जासं, रायबरेली : गांवों के विकास के लिए दिए गए बजट को खर्च करने में ब्लॉक स्तर से कोताही बरती जा रही है। इस पर सभी बीडीओ को पहले ही नोटिस दी गई थी। उनके जवाब आने के बाद अब जिले के ब्लॉक प्रमुख प्रशासन के निशाने पर हैं। इन्हें नोटिस भेजी जाएगी।

जिले में 18 ब्लॉक हैं। सभी ब्लॉकों के पास वित्तीय वर्ष की शुरुआत में ही 13 करोड़ रुपये का बजट था। मगर, इसे गांवों के विकास में खर्च नहीं किया गया। हाल यह है कि वित्तीय वर्ष के करीब 10 महीने बीत चुके हैं। लेकिन, 10.54 करोड़ रुपये अब भी सरकारी खातों में डंप पड़ा है। इसे लेकर बीते दिनों ब्लॉकों में तैनात खंड विकास अधिकारियों को नोटिस दी गई थी। इनके जवाब भी प्रशासन को मिले। जिसमें ब्लॉक प्रमुखों द्वारा कार्यों के प्रस्ताव न देने की बात कही गई। इन्हीं जवाबों को जिलाधिकारी संजय खत्री ने गंभीरता से लिया है। जिला पंचायत राज अधिकारी उपेंद्र राज ¨सह ने बताया कि बीडीओ की तरफ से ब्लॉक प्रमुख द्वारा प्रस्ताव न दिए जाने की बात रखी गई है। जिस पर ब्लॉक प्रमुखों को जिलाधिकारी की ओर से नोटिस भेजी जाएगी। ताकि सरकारी बजट विकास कार्यों पर समय से खर्च हो सके।

Posted By: Jagran