संवादसूत्र, खीरों(रायबरेली) : थाना क्षेत्र के बखरी गांव में पति द्वारा पत्नी को जलाने का आरोप लगा है। दिवाली के दिन जुआ खेलने के लिए रुपये न देने पर युवक के आपा खोने की बात सामने आयी है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

लालगंज के गांव पिलखा निवासी बाबूलाल ने अपने दामाद पर पुत्री को मारपीट कर जला देने का आरोप लगाया है। उसने बताया कि उसकी बेटी सुमन की शादी लगभग 15 वर्ष पहले खीरों क्षेत्र के गांव बखरी निवासी राम रतन उर्फ पुतान के साथ हुई थी। दीपावली की शाम लगभग साढ़े चार बजे उनके दामाद पुतान ने बेटी सुमन से जुआ खेलने के लिए जेवरात व रुपये मांगे। सुमन के मना करने पर राम रतन ने गाली देते हुए उसे लाठी-डंडों से उसे पीटा और जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद पुतान ने सुमन को कमरे में बंद कर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। इससे सुमन बुरी तरह झुलस गई। ग्रामीणों की मदद से उसे सीएचसी लालगंज पहुंचाया गया। नाजुक हालत में उसे जिला अस्पताल भेज दिया गया। वहां वह जिन्दगी और मौत के बीच संघर्ष कर रही है। थानाध्यक्ष अतुल कुमार ¨सह ने बताया कि पीड़िता के पिता की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

Posted By: Jagran