संसू, रानीगंज कैथौला : कोतवाली क्षेत्र के छोटी पयागीपुर केजेसीवी का मजदूर विपिन सरोज (18) पुत्र श्री नाथ की जेसीवी से दबकर मौत हो गयी। परिजनों ने जेसीबी मालिक पर साजिशन हत्या किए जाने का आरोप लगाते हुए करीब दो घंटे हाईवे पर जाम लगाकर आवागमन बाधित कर दिया। सीओ लालगंज के समझाने बुझाने पर आक्रोशित लोग जाम हटा दिए। परिजनों के मुताबिक विपिन का जेसीबी मशीन के मालिक से मजदूरी के बाबत बीस हजार रुपये बाकी था। विपिन बारबार बकाए का पैसा मांगने के लिए आरोपित के पास आया जाया करता था। बुधवार को अपरान्ह विपिन अपने गांव के बगल चल रही जेसीबी के पास पहुंचा और संचालक से बकाए की मांग की। इसे लेकर दोनो मे कुछ तकरार हुई। आरोप है कि जेसीबी संचालक ने चालक को ललकार कर उसके ऊपर जेसीबी चढ़वा दिया। घटना मे विपिन की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। युवक की मौत की जानकारी परिजनों को हुई तो वह भागकर मौके पर पहुंचे। परिजनों ने वहां हंगामा करना शुरू कर दिया। मृतक युवक के दो भाई है, जिनमे एक सचिन 22 व सनी 11 तथा एक बहन आसमां 23 है। परिजनों का सीधा आरोप है कि विपिन को जेसीबी से रौंदकर दिनदहाड़े मार दिया गया है। परिजन विपिन की मौत को लेकर दबंग जेसीबी संचालक तथा चालक के खिलाफ हत्या का मुकदमा व इनकी गिरफ्तारी एवं जेसीबी की बरामदगी की मांग पर भी अड़ गए। मृतक का शव रखकर परिजन तथा ग्रामीण रानीगंज कैथौला पुलिस चौकी के सामने नेशनल हाइवे पर जाम लगाकर 50 लाख रुपये, पांच बीघा जमीन व दो शस्त्र लाईसेंस की मांग रखी। नेशनल हाईवे पर जाम लगने से घंटो से आवागमन बाधित हो उठा। इधर जानकारी होने पर कोतवाल राकेश भारती मौके पर पहुंचे। पहले पुलिस मृतक के शव को घटनास्थल से कोतवाली ले आई, बाद मे जाम के दौरान ग्रामीणों की जिद पर मृतक का शव चौकी के सामने ले आया गया। घटना के बाद पहली बार कैथोला पुलिस चौकी पहुंची तो घटनास्थल पर जेसीबी मौजूद थी, जबकि जेसीबी चालक तथा संचालक फरार हो चुके थे। इस संबंध में लालगंज कोतवाल का कहना है कि जेसीबी पलटने से युवक की मौत हुई है। यह एक हादसा है। तहरीर अभी नहीं मिली है। मिलने पर जांच कर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस