मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

प्रतापगढ़ : बाघराय थाना क्षेत्र के बाघराय सुंदरगंज बाजार के पास शुक्रवार की भोर में एक दर्दनाक हादसा हुआ। शौच को जा रहीं तीन महिलाओं को ट्रक ने चपेट में ले लिया। इसमें एक की मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से घायल मां-बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दुर्घटना के बाद चालक वाहन छोड़कर भाग निकला।

बाघराय सुंदरगंज बाजार निवासी प्रेम कुमार की पत्नी शांति (42) बेटी पूनम (22) व बगल के संतोष अग्रहरि की बेटी सपना (23) शुक्रवार की भोर करीब 5.30 बजे बाजार के पास लालगोपालगंज-जेठवारा मार्ग की ओर शौच करने गई थी। इसी बीच लालगोपालगंज की तरफ से सीमेंट लादकर जा रहे एक ट्रक ने तीनों महिलाओं को चपेट में ले लिया। तीनों गंभीर रूप से घायल हो गईं। आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने जेसीबी से ट्रक को उठवाकर उसके नीचे फंसी महिलाओं को बाहर निकलवाया। सभी को इलाज के लिए सीएचसी बाघराय ले जाया गया, जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने पूनम व सपना को प्रयागराज रेफर कर दिया। वहां ले जाते समय सपना की सांसें थम गईं। उधर, शांति और पूनम की हालत नाजुक बनी हुई है।

टूटा सगाई का सपना : बाघराय बाजार के पास ट्रक की चपेट में आने से जिस युवती सपना की मौत हुई, उसकी गोदभराई तय थी। शुक्रवार को परिजन इसलिए सुबह जल्दी उठ गए थे। सगाई की तैयारी कर रहे थे, लेकिन संतोष को क्या पता था कि जिस बेटी की सगाई व शादी के वह सपने देख रहे हैं, वह सपना बेटी सपना की मौत बन जाएगा। होनी को कौन टाल सकता है। घर में मंगल गीत गूंजने से पहले ही काल आ झपटा। प्रेम कुमार भी अपनी बेटी पूनम के लिए वर देखने जाने के लिए तैयार थे, लेकिन वह भी दुर्घटना में घायल हो गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप