Move to Jagran APP

'जो राम द्रोही हैं, वे आतंकवादी हैं राष्ट्रद्रोही भी हैं...याद है ना सपा ने आपके'...सीएम योगी ने विपक्ष पर साधा निशाना

UP Politics News योगी ने कहा कि सपा के शासन में व्यापारी और बेटियां किस तरह अपने आपको असुरक्षित महसूस करती थीं याद है ना। आज हमनें सबसे पहले व्यापारी भाइयों और मां-बहनों को सुरक्षित करने का काम किया है। कांग्रेस-सपा के गठबंधन पर व्यंग्य कसते हुए कहा कि ये देशवासियों पर जजिया कर लगाने की सोच रहे हैं।

By Jagran News Edited By: Mohammed Ammar Sun, 19 May 2024 03:23 PM (IST)
'जो राम द्रोही हैं, वे आतंकवादी हैं राष्ट्रद्रोही भी हैं...याद है ना सपा ने आपके'

जागरण संवाददाता, प्रतापगढ़ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा और कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि जब-जब सपा और कांग्रेस का गठबंधन रहा, तब-तब अनर्थ हुआ है। उन्होंने कुछ वर्ष पूर्व वाराणसी में संकट मोचन मंदिर में हुए बम विस्फोट का उदाहरण देते हुए कई घटनाओं का जिक्र किया।

कांग्रेस के समय में आतंकी घटनाएं होती थीं : योगी

बताया कि इन घटनाओं के समय उत्तर प्रदेश में सपा और केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी। इनके समय तमाम आतंकी घटनाएं घटती थीं, आज जब भारत में पटाखा भी फूटता है, पाकिस्तान सफाई देने लगता है कि उसका इसमें कोई हाथ नहीं है। वह जानता है कि भारत अब छोड़ने वाला नहीं है। वह रविवार को प्रतापगढ़ के लालगंज के नया पुरवा में लोकसभा प्रत्याशी संगम लाल गुप्ता के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे।

जीतेंगे तो मोदी ही : योगी 

कांग्रेस के गठ रामपुर खास में आयोजित इस सभा में भारी भीड़ देख योगी भी पूरे जोश में आ गए। उन्होंने हाथ उठाकर कहा कि चार चरणों के चुनाव हो चुके हैं, अब तक पूरे देश के अंदर पहले ही अनुमान लगाया जा चुका है आगे क्या होने जा रहा है। चार जून के परिणाम के बारे में जनता को पहले से पता चल गया है। जीतेंगे तो मोदी ही।

इसके साथ ही उन्होंने भाजपा के पिछले दस वर्ष के कार्यकाल की तमाम उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि भारत का कायाकल्प हो चुका है। पहले आतंकी घटनाएं घटित होती थीं, नक्सली घटनाएं आए दिन देश में होती थीं। आज हर क्षेत्र में आतंवाद समाप्त है, नक्लवाद समाप्त हो चुका है। देश की सीमाएं सुरक्षित हैं।

सपा के शासन में व्यापारी और बेटियां किस तरह अपने आपको असुरक्षित महसूस करती थीं, याद है ना। आज हमनें सबसे पहले व्यापारी भाइयों और मां-बहनों को सुरक्षित करने का काम किया है। कांग्रेस-सपा के गठबंधन पर व्यंग्य कसते हुए कहा कि ये देशवासियों पर जजिया कर लगाने की सोच रहे हैं।

खून-पसीने से कमाई गई संपत्ति में से आधी लेने की साजिश रच रहे हैं। यही नहीं पिछड़ी जाति के आरक्षण को भी यह मुसलमानों को देने की सोच रहे हैं, पिछड़ी जाति के आरक्षण पर बैन लगाने की साजिश रच रहे हैं। ये जाति के नाम पर देश को बांटेंगे, सुरक्षा और विकास के माहौल को बिगाड़ने की कोशिश करेंगे। हर बार की तरह उन्होंने प्रतापगढ़ के आंवला का जिक्र किया और सौ पढ़ा ना एक प्रतापगढ़ वाली कहावत को भी दोहराया।

 हाथ उठवा दिलाया संकल्प

योगी ने अपने भाषण के अंत में अयोद्या में दिव्य राम मंदिर के निर्माण का प्रसंग छेड़ते हुए कहा कि अब आप लोग अयोध्या को नहीं पहचान पाएंगे। राम भक्तों से हाथ उठवाया। कहा, रामभक्त जहां भी रहेंगे, लोक के हित के बारे में सोचेंगे, गरीब के बारे में सोचेंगे। जो राम द्रोही हैं, वे आतंकवादी हैं, राष्ट्रद्रोही भी हैं। याद है ना सपा ने आपके नौजवानों को नौकरी देने से टरकाया था, आप उनको वोट से टरका दीजिएगा।

उन्होंने अंत में सभी को रामभक्त के संबोधन से पुकारा और कहा कि अब पांच दिन मतदान को बचे हैं, घर जाकर कम से कम पांच परिवार की सूची बनाएं और उन सभी को 25 को मतदान केंद्र तक ले जाने की अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे, यह वादा करा कर वह चले गए।