सांगीपुर, प्रतापगढ़ : तिलकोत्सव से घर लौट रहे बाइक सवार दुकानदार की रविवार शाम गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक के पिता की तहरीर पुलिस ने दो नामजद समेत तीन लोगों पर मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने आरोपितों के घर दबिश दी, लेकिन सभी फरार हैं।

सांगीपुर थाना क्षेत्र के भोजपुर (पूरे सेवकराम) निवासी निखिल तिवारी उर्फ ललित (22) पुत्र राकेश तिवारी की रामगंज में मोबाइल की दुकान है। रविवार शाम वह बाइक से देउम पश्चिम निवासी मुन्नन तिवारी के यहां तिलकोत्सव में शामिल होने गया था। उस निमंत्रण में उसके दोस्त चंदन तिवारी निवासी देउम पश्चिम व सौरभ ¨सह निवासी पिचूरा भी गए थे। चंदन, सौरभ वहां से पहले चले आए। देर शाम निखिल बाइक से घर लौट रहा था। रास्ते में देउम चौराहे पर चंदन, सौरभ खड़े थे। दोनों ने निखिल को रोका और गाली गलौच करने लगे। इतने में चंदन के ललकारने पर सौरभ ने तमंचा निकालकर निखिल को गोली मार दी। गोली सीने में लगते ही वह गिर पड़ा। बगल में खड़े बाइक सवार के साथ चंदन, सौरभ दोनों भाग गए। आसपास के लोग लहूलुहान निखिल को सीएसी सांगीपुर ले आए। यहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक गोली मारने के बाद हमलावर थरिया की ओर भाग निकले। सूचना पर पहुंची पुलिस ने हमलावरों का पीछा किया, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। घटना की जानकारी होते ही परिजनों में मातम छा गया। निखिल इकलौता बेटा था। उसकी तीन छोटी बहने हैं। पिता राकेश तिवारी ने चंदन तिवारी, सौरभ ¨सह के खिलाफ तहरीर दी है। एसपी एस आनंद का कहना है कि मृतक और दोनों आरोपित दोस्त थे। आरोपितों की तलाश में पुलिस टीमें दबिश दे रही हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप