प्रतापगढ़ : पट्टी-रानीगंज मार्ग पर परमीपट्टी मोड़ के पास शव लेकर जा रही बस की चपेट में आने से बाइक सवार बोरिग मिस्त्री की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि उसके साथ बाइक चला रहा ठेकेदार गंभीर रूप से घायल हो गया।

कंधई थाना क्षेत्र के अमहरा निवासी गंगादीन कनौजिया (60) हैंडपंप की बोरिग का काम करते थे। मंगलवार सुबह ठेकेदार राजेश सिंह निवासी लौवार के साथ बाइक से कहीं हैंडपंप की मरम्मत करने जा रहे थे। वह परमीपट्टी की ओर से जैसे ही रानीगंज पट्टी मार्ग पर पहुंचे तभी पट्टी की तरफ से शव लेकर प्रयागराज जा रही बस ने बाइक में जोरदार टक्कर मार दी। इसमें दोनों को गंभीर चोटें आई। दोनों को इलाज के लिए इंस्पेक्टर कोतवाली अखिलेश प्रताप सिंह ने सीएचसी भेजवाया, जहां पर गंगादीन को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। जबकि राजेश सिंह की स्थिति गंभीर देखते हुए डाक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। कोतवाली इंस्पेक्टर अखिलेश प्रताप सिंह ने बस चालक को हिरासत में लिया है। उड़ैयाडीह संसू के अनुसार मृतक गंगादीन के कुल छह पुत्र व दो पुत्रियां हैं। इनमें तीन पुत्र व तीन पुत्रियों का विवाह हो गया है।

सेल्समैन को अगवा कर मारापीटा : कोतवाली लालगंज कस्बा के रहने वाले अजय कौशल किराने के थोक व्यवसाई हैं। उनका सेल्समैन नौशाद आलम निवासी पूरे बंशी मंगलवार को दिन में करीब 11 बजे पिकअप वाहन से एजेंसी का सामान लादकर रानीगंज कैथौला की ओर जा रहा था। हाईवे पर चौहान ढाबा के समीप बोलेरो सवार छह नकाबपोश बदमाशों ने ओवरटेक करके पिकअप को रोक लिया। तमंचा सटाकर नौशाद को बोलेरो में बैठाकर उठा ले गए। बदमाशों ने सेल्समैन को मारापीटा और उसे रानीगंज कैथौला क्षेत्र के पास सुनसान जगह पर फेंककर रायबरेली की ओर भाग निकले। पिकअप के चालक ने घटना की सूचना पुलिस को दी। एसएसआइ कृपाशंकर राय का कहना है कि व्यवसाई अजय कौशल की तहरीर पर अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है।

Posted By: Jagran