संसू, डेरवा, प्रतापगढ़ : जवाहर नवोदय विद्यालय नारायणपुर में हुई तीन दिवसीय जूडो कराटे नेशनल मीट में लखनऊ रीजन 26 गोल्ड लेकर ओवरआल विजेता बना। दूसरे स्थान पर रही भोपाल रीजन की टीम को सात स्वर्ण पदक मिले। बुधवार को समापन अवसर पर डायट प्राचार्य मुहम्मद इब्राहिम ने विजेता व उप विजेता टीम को शील्ड देकर सम्मानित किया।

तीन दिवसीय इस प्रतियोगिता में लखनऊ रीजन को पांच सिल्वर व नौ कांस्य समेत कुल 40 पदक मिले। दूसरे स्थान पर रही भोपाल की टीम को 15 रजत, 13 कांस्य समेत कुल 35 पदक मिले। अपने संबोधन में मुख्य अतिथि डायट प्राचार्य मुहम्मद इब्राहिम ने कहा कि परिश्रम से ही सफलता मिलती है। जो बच्चे सफल नहीं हो सके हैं, वह मेहनत करें। आगे चलकर वह जरूर सफल होंगे। विशिष्ट अतिथि असिस्टेंट कमिश्नर जवाहर नवोदय विद्यालय समिति लखनऊ राजन कुमार ने कहा कि तीन दिनों तक आठ रीजन के बच्चे एक साथ रहे। इससे उनमें एक दूसरे को समझने का मौका मिला। सच्चा बाबा आश्रम के महंत मनोज, अनुराधा, कोच मनीष कुमार समेत विद्यालय के शिक्षक व शिक्षिकाएं व विभिन्न प्रांतों के कोच व खिलाड़ी मौजूद रहे। नवोदय की प्रधानाचार्य निरुपमा सिंह ने सभी का स्वागत करते हुए बच्चों का उत्साहवर्धन किया। संचालन शिखा श्रीवास्तव ने किया।

---

यह रहे जूडो में बेस्ट

बालक वर्ग-

14 वर्ष-जेनिन-शिलांग रीजन

17 वर्ष-अजीत कुमार-लखनऊ रीजन

19 वर्ष-सुशांत सिंह-पुणे

---

बालिका वर्ग-

14 वर्ष-आकांक्षा-लखनऊ

17 वर्ष-आकांक्षा-लखनऊ

19 वर्ष-प्राची-भोपाल

----

किस रीजन को कितना मिला मेडल-

लखनऊ-40

हैदराबाद-17

चंडीगढ़-19

भोपाल-35

शिलांग-20

पुणे-16

जयपुर-30

पटना-सात

----

पुणे रीजन के प्रतिभागियों ने जमीं को किया सलाम

जवाहर नवोदय विद्यालय में तीन दिवसीय जूडो प्रतियोगिता में पुणे रीजन से आए प्रतिभागियों ने प्रतापगढ़ की जमीं को सलाम करते हुए कहा कि भगवान का शुक्र है कि वह सही सलामत हैं। वरना चालक के साथ 47 प्रतिभागी छात्र-छात्राओं की जान जा सकती थी। प्रतिभागियों ने कहा कि उन्हें खिताब तो जरूर मिल गया लेकिन कुशलतापूर्वक उनकी जान बचाने वाला बस चालक अशोक धात्रे को वह कभी नहीं भूलेंगे।

---

नौनिहालों ने सिर पर लादकर ढोए गद्दे

फोटो-28 पीआरटी- 36

जवाहर नवोदय विद्यालय में तीन दिवसीय नेशनल मीट के समापन पर अव्यवस्था भी साफ दिखी। इस प्रतियोगिता में शासन ने तीन लाख रुपये खर्च करने के लिए दिए थे। बावजूद इसके विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों से गद्दे ढुलवाए गए। यह लोगों में चर्चा का विषय रहा।

-------

होता रहा डीएम का इंतजार

जवाहर नवोदय विद्यालय में जूडो नेशनल मीट के समापन अवसर पर डीएम को मुख्य अतिथि बनाया गया था। काफी इंतजार के बाद भी डीएम नहीं आए तो डायट प्राचार्य ने यह भूमिका निभाई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप