संसू, दीवानगंज : कंधई पुलिस ने चार शातिर बदमाशों को गिरफ्तार करके पखवारे भर पहले खीरीबीर घाट पर व्यापारी से हुई लूट का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने बदमाशों से घटना में प्रयुक्त बाइक भी बरामद कर ली है।

कंधई थाना क्षेत्र के गनईडीह गांव निवासी शेषमणि पांडेय 11 जनवरी को शाम 7:30 बजे दुकान बंद करके घर जा रहे थे। खीरीबीर घाट पर ओवरटेक करके तीन बदमाशों ने रुपये, मोबाइल लूट लिया था। घटना के बाद पुलिस ने जेल रोड तिराहे से खीरीबीर घाट तक दुकानों और मकानों में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला था।

इस बीच कंधई एसओ विपिन सिंह और स्वॉट टीम अजय सिंह ने मुखबिर की सूचना पर शिवसत पुल के पास घेरेबंदी करके चार शातिर लुटेरे गिरफ्तार कर लिए। गिरफ्तार आदित्य गुप्ता पुत्र बाल मुकुंद व सहवान पुत्र मोहम्मद शब्बीर निवासीगण चिलबिला चौराहा, जावेद पुत्र मोहम्मद खालिक निवासी फेनहा, परवेज पुत्र शरीफ निवासी चिलबिला रेलवे क्रासिग के पास एक पल्सर, चोरी की एक अपाचे, दो तमंचा, लूटे गए 13 मोबाइल को बरामद किया। मौके से राजू मौर्या निवासी चिलबिला भाग निकला।

रविवार को कंधई थाने में प्रेस कांफ्रेंस में एएसपी पूर्वी सुरेंद्र द्विवेदी ने बताया कि गिरफ्तार शातिरों ने कबूल किया कि उनके गैंग के लोग लूट की घटनाओं को अंजाम देते हैं। बरामद पल्सर बदमाश जावेद के दोस्त सालिम उर्फ सल्ले की है। इसी बाइक को लूट में इस्तेमाल करते हैं। बरामद मोबाइलों में एक मोबाइल के बारे में बताया कि पखवारे भर पहले खीरीबीर पुल पर जावेद ने साथी आदित्य व सहवान के साथ लूट की थी। वह लूट शेषमणि पांडेय से की गई थी। एएसपी ने बताया कि अपाचे बाइक परवेज के दोस्त राजू की है, वह मौके से भाग निकला।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस