प्रतापगढ़ : कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 55 घंटे की बंदी के बाद सोमवार को बाजार खुले तो भीड़ उमड़ पड़ी। खरीदारी को निकले ग्राहकों की भीड़ से फिजिकल डिस्टेंसिग तार-तार दिखी। लोग बढ़ते संक्रमण के बावजूद लापरवाह दिखे।

कोरोना पॉजिटिव केस लगातार बढ़ता देख प्रदेश सरकार ने शुक्रवार रात 10 बजे से 55 घंटे की बंदी पूरे सूबे में की थी। यह बंदी शहर से लेकर गांव तक प्रभावी रही। दवा और दूध की दुकानों को छोड़कर कोई भी दुकान शनिवार व रविवार को नहीं खुली थी। इस बीच 55 घंटे की बंदी समाप्ति के बाद सोमवार सुबह बाजार खुले तो खरीदारी के लिए भीड़ उमड़ पड़ी।

शहर में चौक, बाबागंज, श्रीराम तिराहा, बलीपुर, आंबेडकर चौराहा, चिलबिला में सुबह से ही ग्राहकों का हुजूम उमड़ा था। भीड़ इस कदर थी कि फिजिकल डिस्टेंसिग की धज्जियां उड़ गई थी। शहर में सभी चौकी इंचार्ज अपने इलाके में वाहनों की चेकिग करते रहे। इस दौरान बिना मास्क और हेलमेट के निकले दो दर्जन से अधिक लोगों की बाइक का चालान किया गया। पुलिस अधिकारी भी लोगों की लापरवाही देख हैरान थे। कोरोना से बचाव के प्रति लोगों में ऐसी बेपरवाही भारी पड़ रही है। लोग मास्क लगाने और दूरी बनाने से बेफिक्र हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021