प्रतापगढ़ : जिला अस्पताल में एंटी रैबीज का इंजेक्शन न लगने से नाराज मरीजों ने हंगामा खड़ा कर दिया। मरीज इस मामले को लेकर सीएमओ से मिले। सीएमओ पर गलत बयानबाजी का आरोप लगाते हुए नाराज मरीजों ने जिला अस्पताल का गेट जाम कर नारेबाजी शुरू कर दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मरीजों को शांत कराया। इस दौरान एक घंटे तक चौक-कचहरी रोड जाम रहा।

जिला अस्पताल के साथ ही जिले भर की 17 सीएचसी में कई दिनों से एंटी रैबीज का इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है। शुक्रवार को कुंडा के अंबरीश सोनकर, किशुनगंज के राम सुंदर, कटरा मेदनीगंज के सागर गुप्ता, जोगापुर के सुधांशु मौर्या, देल्हूपुर के शिव प्रसाद, सड़ारी की सीमा तिवारी, बरहूपुर के अब्दुल सलाम, प्रतापगढ़ सिटी के राजू यादव, अजगरा की ¨रकी देवी, सौरभ, अंश, वशीर, रिमझिम, उदयभानु, ऊर्मिला रैबीज का इंजेक्शन लगवाने के लिए जिला अस्पताल पहुंचे। वहां पर रैबीज खत्म होने की सूचना नोटिस बोर्ड पर चस्पा थी। मरीजों के पूछने पर स्वास्थ्य कर्मियों ने रैबीज इंजेक्शन के न होने की बात कही। यह सुनकर मरीज भड़क गए और हंगामा करने लगे। इसके बाद मरीज शोर मचाते हुए सीएमओ कार्यालय पर पहुंचे। वहां मरीजों के इस बाबत पूछने पर सीएमओ अर¨वद कुमार श्रीवास्तव ने आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी। इससे मरीज भड़क गए और नारेबाजी करने लगे। घटना की जानकारी होने पर पुलिस जिला अस्पताल पहुंचे और लोगों को शांत कराया।

सीएमओ अर¨वद कुमार श्रीवास्तव का कहना है कि जिला अस्पताल के अलावा सभी सीएचसी में एंटी रैबीज का इंजेक्शन खत्म है। केवल तीन कंपनियां हैं जो पूरे देश में इसकी सप्लाई करती हैं। यह श्वान व इंसान के ब्लड से एंटी रैबीज इंजेक्शन तैयार किया जाता है। इसकी डिमांड की गई है। मिलते ही इंजेक्शन लगाने का कार्य होगा। वहीं मरीजों से आपत्तिजनक शब्दों के प्रयोग के आरोप पर स्पष्ट किया कि उन्होंने कुछ भी ऐसा नहीं कहा था, जिससे उनकी भावना को ठेस पहुंचती, यह अलग बात है कि उन लोगों ने मेरी बात को अन्यथा ले लिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप