प्रतापगढ़ : सीआरपीएफ प्रशिक्षण केंद्र त्रिसुंडी अमेठी में सोमवार से शुरू हुई भर्ती का असर रेल व सड़क परिवहन पर साफ नजर आ रहा है। रविवार रात से ही ट्रेनों व बसों पर अभ्यर्थियों की भीड़ बढ़ गई है, जिससे रूटीन यात्रियों को मुश्किल हो रही है। जीआरपी को भी मशक्कत करनी पड़ रही है।

सीआरपीएफ भर्ती सेंटर प्रतापगढ़ सीमा पर कोहड़ौर से करीब पांच किलोमीटर दूर है। इस वजह से इस भर्ती में आने वाले युवकों की भीड़ का असर प्रतापगढ़ तक पड़ता है। मुख्य जंक्शन से होकर गुजरने वाली ट्रेनों पर भर्ती में शामिल होने जा रहे युवकों की भीड़ बढ़ने से समस्या खड़ी हो गई है। रविवार की रात प्रयागराज से अयोध्या जा रही सरयू एक्सप्रेस में रूटीन यात्री परेशान देखे गए। युवकों ने अधिकांश सीटों ही नहीं फर्श तक पर कब्जा कर लिया था।

यही हाल सोमवार को भी ट्रेनों में रहा। भीड़ द्वारा हो-हल्ला और हंगामा भी किया गया। अति उत्साही युवकों की भीड़ को देखते हुए रेलवे पुलिस विश्वनाथ से लेकर अमेठी तक सतर्क रही। खासकर प्रतापगढ़ तथा चिलबिला, कोहड़ौर रेलवे स्टेशनों पर पुलिस खास परेशान नजर आई। यहां पर सैकड़ों युवाओं का रेला ट्रेनों पर सवार हुआ। भर्ती करीब एक हफ्ते चलने वाली है। यह रेलवे पुलिस के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। पिछले दिनों सेना भर्ती के अभ्यर्थियों ने सरयू एक्सप्रेस में जमकर हंगामा किया था। ट्रेन के इंजन पर सवार हो गए थे और विश्वनाथगंज में ट्रेन पर पथराव भी कर दिया था। इससे ट्रेन के ड्राइवर समेत दो लोगों को चोट लगी थी। इस घटना को देखते हुए रेल प्रशासन सीआरपीएफ भर्ती पर बहुत खास नजर रख रहा है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस