संसू, लालगंज : बाइक सवार नकाबपोश बदमाशों द्वारा दिनदहाड़े स्कूल में शिक्षिका को तमंचा सटाकर सोने की चेन व मोबाइल के लूट की घटना से डरे सहमे बच्चे स्कूल आने का साहस नहीं जुटा पा रहे हैं। घटना के तीसरे दिन बुधवार को मात्र चार बच्चे ही स्कूल आए। वहीं दहशत के चलते पीड़ित शिक्षिका भी स्कूल नहीं आई। इधर पुलिस बदमाशों की तलाश में दबिश दे रही है। नगर पंचायत लालगंज के सांगीपुर प्राथमिक विद्यालय में सहायक अध्यापिका वर्षा त्रिपाठी से बीते सोमवार सुबह स्कूल में बाइक सवार दो

नकाबपोश बदमाशों ने चेन व मोबाइल लूट लिया था। जिससे शिक्षिका व स्कूल के बच्चे सहमे हुए हैं। तीसरे दिन भी पीड़ित शिक्षिका स्कूल नहीं आई। वहीं प्रधानाध्यापिका आशा किरन त्रिपाठी, शिक्षामित्र मीना शुक्ला व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ममता त्रिपाठी व सहायिकाएं मौजूद मिलीं। प्रधानाध्यापिका ने बताया कि डरे सहमें होने से बच्चे स्कूल नहीं आ रहे हैं। नामांकित 50 बच्चों में से आज चार बच्चे कक्षा पांच के प्रवीण व आकाश, कक्षा चार की रुपम व कक्षा तीन के अरुण ही स्कूल आए हैं। एमडीएम में बनी तहरीर बच्चों ने खाया। बच्चों को स्कूल लाने के किए जा रहे प्रयास के प्रश्न पर प्रधानाध्यापिका ने धीरे धीरे स्वत: स्थित सामान्य हो जाएगी की दो टूक बात कही। शिक्षिका की तहरीर पर पुलिस ने दो अज्ञात बदमाशों के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज किया है। उधर बदमाशों की शीघ्र गिरफ्तारी न होने पर शिक्षकों ने आंदोलन की चेतावनी दी है। कोतवाल सुभाष कुमार यादव का कहना है कि बदमाशों की तलाश में दबिश दी जा रही है। कुछ संदिग्धों से पूछताछ भी की गई। शीघ्र ही बदमाश पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

-----

इनसेट--

घर घर जाकर बच्चों को समझा कर उनके अंदर से भय निकालने एवं उन्हें स्कूल ले आने के बाबत प्रधानाध्यापिका को निर्देश दिए गए हैं। बच्चों को स्कूल लाने के हो रहे प्रयास पर नजर रखी जा रही है। लापरवाही मिली तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

-मो. रिजवान, खंड शिक्षाधिकारी लालगंज।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस