संसु, कुंडा : कौशांबी में चल रहे अवैध खनन मामले की जांच की आंच कुंडा तक पहुंच गई। सीबीआइ की टीम शनिवार की रात करीब साढ़े आठ बजे कुंडा कोतवाली पहुंची। यहां पर कौशांबी में चल रहे अवैध खनन के मामले के संबंध में कई ट्रक चालकों से पूछताछ की गई। उनसे पूछताछ में कई महत्वपूर्ण तथ्य सीबीआइ के हाथ लगे हैं। सीबीआइ टीम की नजर प्रतापगढ़ जिले के कुंडा के कुछ उन ट्रांसपोर्टरों पर भी गड़ गई है, जिनके ट्रक अवैध रूप से बालू और मोरंग की ढुलाई में पकड़े गए थे। कुंडा के अशोक कुमार नाम के ट्रक मालिक से कोतवाली कुंडा में बुलाकर सीबीआइ टीम ने आधे घंटे तक पूछताछ की। इसी तरह पांच अन्य ट्रक मालिकों से भी बालू के अवैध खनन के बारे में पूछताछ की। इन सभी ट्रक मालिकों को रविवार को दोबारा कुंडा कोतवाली में बुलाया गया है। सीबीआइ टीम रविवार को इनसे कुंडा कोतवाली में फिर से पूछताछ करेगी। माना जा रहा है कि कौशांबी में हुए अवैध खनन की जांच में कई प्रतापगढ़ के लोग भी फंसेगे। नौकरी के नाम पर लाखों की ठगी, शिकायत

संसू, कुंडा : क्षेत्र के हथिगवां बाजार निवासी राजेश कुमार यादव ने हथिगवां इंटर कालेज में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के नाम पर उससे एक शिक्षक द्वारा आठ लाख रुपये की मांग की गई। राजेश अपने करीबियों व बैंक से लोन लेकर पैसा उक्त शिक्षक को दिया। इसके बाद शिक्षक ने उसे फर्जी ज्वाइनिग लेटर बनाकर इंटर कालेज में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी पर रख दिया। नौकरी के दौरान जब उसे वेतन नहीं मिला तो उसने शिक्षक से वेतन की मांग की, जिस पर शिक्षक द्वारा बताया गया कि जब पूरा पैसा दे दोगे तो वेतन मिलने लगेगा। इस बीच कुछ दिन राजेश द्वारा वेतन के लिए दवाब बनाने पर शिक्षक द्वारा उसे बिना कारण बताए विद्यालय से बाहर निकाल दिया गया। पीड़ित राजेश ने डीएम से शिकायत करके हुए कार्रवाई की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस