मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

प्रतापगढ़ : इस रविवार चलो बूथ की ओर। यह नारा वोट के बूथ के लिए नहीं, पोलियो बूथ पर चलने को दिया गया। शुक्रवार को शहर में निकली पल्स पोलियो अभियान जागरूकता रैली में तरह-तरह के नारों के जरिए लोगों को उनकी जिम्मेदारी का एहसास कराया गया कि वह 10 मार्च को बच्चों को पोलियोरोधी दवा जरूर पिलाएं।

स्वास्थ्य विभाग कई दिनों से रैली की तैयारी कर रहा था। दिन में करीब सवा दस बजे डीएम मार्कंडेय शाही जिला अस्पताल पहुंचे। उनके साथ सीडीओ डीपी सिंह भी रहे। डीएम ने हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। रैली में इस बार किशोरियों, बालिकाओं में एनिमिया की समस्या रोकने का अभियान भी शामिल रहा। डीएम ने कहा कि पोलियो का संक्रमण बच्चों की मुस्कान छीन सकता है। उनको अपंग भी बना सकता है। इसलिए अभिभावक अपने पांच साल तक के बच्चों को खुराक जरूर पिलाएं। सीएमओ डा. एके श्रीवास्तव ने कहा कि इस रविवार सभी बूथों पर दवा पिलाने की व्यवस्था रहेगी। पांच लाख बच्चों तक दवा पहुंचाने का लक्ष्य है। साथ ही किशोरी एनिमिया समस्या समाधान अभियान भी 22 मार्च तक चलेगा। रैली में प्राइमरी स्कूल के बच्चे, आशा, आंगनबाड़ी, सीएमएस डा. योगेंद्र यति, प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. संतोष कुमार त्रिपाठी, सहायक प्रतिरक्षण अधिकारी महेश सिंह, डीपीएम राजशेखर, आरजी चौधरी, शिक्षक व कर्मी मौजूद रहे। रैली चौक से घूमकर पंजाबी मार्केट होकर जिला अस्पताल लौटी। छात्र-छात्राएं व आशाओं ने नारों की तख्तियां ले रखीं थीं। इसके पहले डीएम ने नेशनल मोबाइल मेडिकल यूनिट की सर्विस की वैन को भी रवाना किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप