संसू, कटरा मेदनीगंज : नगर कोतवाली क्षेत्र के फुलवारी गांव में शुक्रवार को दोपहर बच्चा चोरी के प्रयास की अफवाह फैल गई। दावा किया गया कि बोलेरो से आए बदमाशों ने बच्चे को चुराने का प्रयास किया। विरोध करने पर बच्चे को मारा-पीटा। दो लोगों को आते देख बोलेरो सवार बच्चा चोर भाग निकले। हालांकि पुलिस ने घटना को अफवाह बताया।

नगर कोतवाली क्षेत्र के टेऊंगा गांव निवासी मोहम्मद रज्जब का बेटा अशरफ (10) महेंद्र प्रताप पब्लिक स्कूल फुलवारी में कक्षा पांच का छात्र है। दोपहर 1:00 बजे स्कूल की छुट्टी होने पर अशरफ को लेकर उसकी मां गुलशन बानो घर जा रहा थी। घर से पहले पुल के पास अशरफ को छोड़कर गुलशन बानो दूसरे बच्चे मोहम्मद आदिल को लेने बीबीएस एकेडमी फुलवारी चली गई। आदिल कक्षा तीन का छात्र है। परिजनों के अनुसार इसी दौरान एक बोलेरो तेज रफ्तार से आकर अशरफ के पास रुकी। बोलेरो से उतरे दो लोगों ने अशरफ को दौड़ा लिया। भागकर अशरफ अपने घर के अहाते में पहुंचा और अंदर से गेट बंद कर लिया। दोनों बदमाश गेट फांदकर अहाते में पहुंच गए। अशरफ का मुंह दबाकर उसे उठाकर ले जाने का प्रयास करने लगे। इतने में अशरफ ने बदमाशों के हाथ में दांत से काट लिया। इससे गुस्साए बदमाश अशरफ को नायलान की रस्सी से पीटने लगे ।

बच्चे के घर के सामने दवा की एजेंसी है। इसी बीच दो लोग एजेंसी की ओर रहे थे। बदमाशों ने सोचा कि यह लोग बच्चे के परिवार के हैं। इससे पकड़े जाने के डर से बच्चे को छोड़कर दोनों बदमाश बोलेरो से भाग निकले। बच्चा चोरों के आने की जानकारी होने पर अशरफ की मां और आस पास के लोग दौड़कर पहुंचे। बच्चे ने रोते हुए पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। घटना की सूचना मिलने पर सिटी चौकी से दारोगा योंगेंद्र सिंह, इंस्पेक्टर क्राइम अर्जुन सिंह डायल हंड्रेड पुलिस मौके पर पहुंची और अशरफ से घटनाक्रम के बारे में पूछताछ की। इसके बाद पुलिस अशरफ को लेकर कोतवाली चली गई। इस बारे में इंस्पेक्टर क्राइम अर्जुन सिंह का कहना है कि अशरफ यह बता रहा है कि स्कूल गेट पर रोज मुंह बांधकर दो लोग मिलते हैं और उसे अपने साथ चलने की बात कहते हैं। जिस बोलेरो से बच्चा चोरों की आने की बात कही जा रही है, वह एक बैंक मैनेजर की है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप