प्रतापगढ़ : दो दिन पहले हुई अशोक शर्मा की हत्या का कनेक्शन भुलियापुर से जुड़ता दिख रहा है। सीसीटीवी फुटेज में जो बदमाश दाढ़ी वाला दिख रहा है, वह शुक्रवार को जेल में किसी बंदी से मिलने गया था। पुलिस उस बंदी के बारे में पता लगा रही है। उधर, दहशत के मद्देनजर मृतक अशोक के घर दो सिपाही तैनात कर दिए गए हैं।

सदर बाजार निवासी अंजनी उमरवैश्य की किराने की दुकान पर शनिवार को तीन बदमाश पहुंचे। दो बदमाश काउंटर पर पहुंचे और काजू, बादाम देने को कहा। पैसा मांगने पर पिस्टल तान लिया। डर के कारण अंजनी व उनके नौकर कमरे में छिप गए। इसके बाद बदमाश काउंटर से कूदकर दुकान में घुसे और काउंटर से 15 हजार रुपये, काजू, बादाम समेत अन्य सामान लूटकर भागने लगे। चंद कदम पर दूर अशोक शर्मा घर के बाहर सड़क पर खड़ा था, बदमाशों ने उसे गोली मार दी थी। इलाज के दौरान शनिवार देर रात अशोक ने प्रयागराज में दम तोड़ दिया था।

पुलिस ने सीसीटीवी का फुटेज चेक किया तो एक बदमाश का चेहरा नजर आया। वह दाढ़ी रखे था। पुलिस का मानना है कि दाढ़ी वाला बदमाश गैर जनपद का है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज को जेल में बंद भुलियापुर, आजाद नगर के बदमाशों को दिखाया, लेकिन किसी ने पहचानने से इन्कार कर दिया। जेल का सीसीटीवी फुटेज देखा गया तो उसमें शुक्रवार को दाढ़ी वाले बदमाश की शक्ल का व्यक्ति जेल में दाखिल पाया गया। वह किसी बंदी से मिलने गया था। स्वाट टीम ने सोमवार को जेल का मुलाकाती रजिस्टर खंगाला, लेकिन कुछ खास क्लू नहीं मिल सका। एएसपी पूर्वी अवनीश मिश्र का कहना है कि जेल के सीसीटीवी फुटेज से यह जानकारी मिली है कि दाढ़ी वाला बदमाश शुक्रवार को जेल में किसी बंदी से मिला था। उस बंदी के बारे में पता लगाया जा रहा है।

Posted By: Jagran