जागरण संवाददाता, प्रतापगढ़ : कोविड-19 वायरस का फैलाव जिले में जोरों पर है। गुरुवार को आशा वर्कर व एसपी के गनर व चालक समेत 63 लोग पॉजिटिव पाए गए। इसमें सर्वाधिक 17 लोग कोहंड़ौर क्षेत्र के हैं। अब तक मिले मरीजों में से ढाई सौ से अधिक स्वस्थ भी हो गए हैं।

कोहंड़ौर सीएचसी में हुई जांच में जो 17 लोग संक्रमित मिले हैं उनमें 14 पुरुष व तीन महिलाएं भी हैं। इसमें एक मरीज स्थानीय बाजार का रहने वाला है, बाकी सब क्षेत्र के पूरे उदय राज गांव के हैं।

लालगंज क्षेत्र में भी कोरोना का हमला कम नहीं हो रहा है। यहां के सात लोग संक्रमित पाए गए हैं। एंटीजन टेस्ट में एक महिला और उसके दो बच्चे संक्रमित मिले हैं। पिता को पहले से ही संक्रमण ने चपेट में लिया है। यह सभी सांगीपुर के हैं। इसी तरह अझारा गांव का एक युवक, असरही गांव का एक किशोर संक्रमित हुआ है। मनीपुर गांव की युवती और उसी परिवार की एक बुजुर्ग महिला को भी वायरस ने बीमार कर दिया।

इसी तरह मानधाता ब्लाक के कटाता गांव में पिता, पुत्र संक्रमित मिले हैं। पिता सेना से रिटायर है। चिकित्सा प्रभारी डा. राकेश ने दोनों की मांग पर उनको होम आइसोलेट करा दिया है। गांव के अन्य लोगों की जांच की जा रही है। बिहार ब्लाक के पंचमहुआ गांव में सात व हीरागंज में एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से हड़कंप मचा है। यहां मेडिकल टीम ने 86 लोगों की जांच की थी। स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा दवा छिड़काव का काम शुरू कर दिया गया। इसी तरह रानीगंज के बालीपुर गांव में 27 लोगों की कोविड हुई। इसमें एक आशा कार्यकर्ता कोरोना पॉजिटिव मिली। उसे घर पर ही रखा गया है। कुंडा सीएचसी में तैनात चिकित्सक डा. रोहित सिंह की देखरेख में कुंडा कोतवाली में हुई जांच में एक सिपाही समेत पांच अन्य लोग संक्रमण के घेरे में मिले। सबको उनके आवास पर आइसोलेट कर दिया गया। आमापुर बेर्रा गांव के 43 वर्षीय एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

---

शहर में भी मिले कई केस

शहर में भी वायरस का संक्रमण जारी है। गुरुवार को जो लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं उनमें बीते दिनों कोरोना से जान गंवाने वाले पल्टन बाजार के अधिवक्ता के पांच स्वजन भी शामिल हैं। इसके साथ ही बड़ौदा बैंक मेन ब्रांच के एक कर्मी व उसकी पत्?नी रैपिड टेस्ट में संक्रमित पाए गए हैं। चिलबिला के मिठाई विक्रेता का पुत्र भी है।

--

कोविड के मरीजों ने किया हंगामा, पहुंची पुलिस

संसू, मकूनपुर : कोहंड़ौर इलाके के पूरे राम देव गांव में एक साथ 15 कोरोना संक्रमित पॉजिटिव पाए जाने पर लोग परेशान हो उठे। जब इन मरीजों को कोविड हास्पिटल ले जाने के लिए एंबुलेंस पहुंची तो दो मरीज अस्पताल न जाने की जिद पर अड़ गए। वह हंगामा शुरू कर दिए। इस बीच एंबुलेंस का एक कर्मी कोहंड़ौर थाने के प्रभारी निरीक्षक संजय यादव के पास फोन कर दिया। थाने के दारोगा विजय कुमार व सिपाही जय प्रकाश सिंह मौके पर पहुंचकर दोनों को अस्पताल भेजवाया। इधर गुरुवार को कोहंड़ौर बाजार हाट स्पाट एरिया का निरीक्षण एसडीएम पट्टी डीपी सिंह ने किया। बगैर मास्क लगाए लोगों पर नाराजगी जाहिर की। दारोगा मनोज सिंह से कहा कि हाट स्पाट एरिया में दुकानें खुलीं तो उनकी भी खैर नहीं होगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस