प्रतापगढ़ : लालगंज कोतवाली के बेलखरियन के पास बदमाशों ने तमंचा दिखाकर युवक से 35 हजार की नकदी व सामान लूट लिया। सूचना पर पुलिस पहुंची, लेकिन बदमाशों का सुराग नहीं लगा सकी। पीड़ित ने अज्ञात दो बदमाशो के खिलाफ तहरीर दी है।

कोतवाली के चंदापुर निवासी मो. इरफान (28) पुत्र मो. फारुख मुंबई में रहकर प्राइवेट काम करता है। मुंबई से चलकर वह रविवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे बस से सगरासुंदरपुर बाजार में उतरा। इसके बाद लक्ष्मणपुर मार्ग पर पहुंचकर एक दुकान पर चाय पी। इसके बाद वह पैदल घर जाने लगा। युवक के कुछ दूर चलते ही रास्ते में पल्सर सवार दो बदमाश पहुंचे। खुद को रामपुर भेड़ियानी का निवासी बताते हुए युवक से उसका घर पूछा। युवक ने चंदापुर बताया तो उसे साथ चलने व घर के पास छोड़ देने की बात कही। बदमाशों के झांसे में आकर युवक उनके साथ बाइक पर बैठ लिया। बेलखरियन बहवा पुल के पास अचानक एक बदमाश ने सड़क पर अपनी रुमाल गिरा दी और बाइक रोककर इरफान से रुमाल ले आने को कहा। आरोप है कि इरफान अपना सूटकेस बदमाशों को पकड़ा कर जैसे ही बाइक से नीचे उतरा कि बदमाशों ने तमंचा निकाल लिया और उसकी जेब में रखा 35 हजार रुपये नकद व उसका सूटकेस लूटकर लक्ष्मणपुर की ओर भाग निकले। पीड़ित के शोर मचाने पर लोगों की भीड़ जुट गई। सूचना पर पुलिस पहुंची, लेकिन बदमाशों का सुराग नहीं लगा सकी। इधर घटना पर जुटे लोगों का कहना रहा कि घटनाओं पर पुलिस मुकदमें तक सीमित है। क्षेत्र में पुलिस की गश्त भी खानापूर्ति बनी नजर आती है। कोतवाल सुभाषचंद्र यादव का कहना है कि तमंचा सटाकर लूट की बात गलत है। मामले में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है।

---------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप