पीलीभीत : नौकरी का झांसा देकर बेरोजगारों से 15-15 हजार रुपये हड़प लिए गए। पीड़ितों ने जब इसकी शिकायत की तो उनके साथ गाली गलौच करते हुए झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी की गई। पुलिस ने ठगी के शिकार हुए युवाओं से मिली तहरीर पर कंपनी के दस कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज की गई है।

जहानाबाद क्षेत्र के गांव डंडिया भिसौड़ी गांव निवासी रामसेवक और अन्य लोगों ने बताया कि पांच माह पहले उनको स्मार्ट वैल्यू प्रोडक्ट्स एंड सर्विस के कर्मचारी अलग-अलग स्थान पर मिले। कर्मचारियों ने बताया कि कंपनी बेरोजगारों को नौकरी देती है। 15 हजार रुपये मासिक वेतन देने की बात कहते हुए। कंपनी के स्थानीय संचालक संतोष कुमार ने बतौर सिक्योरिटी सभी से पांच माह पूर्व 15-15 हजार रुपये भी लिए। पांच माह का समय बीतने के बाद भी जब वेतन नहीं मिला तो बीते दिनों इसकी शिकायत की गई। पुलिस ने बेरोजगार युवाओं की तहरीर के आधार पर संतोष कुमार, नीरज कुमारी, अर¨वद, इंदल, उर्मिला, विपिन, अल्का, शिल्पी, उमा, विमलेश दस कंपनी कर्मचारियों पर धोखाधड़ी व धमकाने का मुकदमा दर्ज किया है। एसएसआई राजकुमार भारद्वाज ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप