पीलीभीत : भजन गाते हुए कांवड़ियों के अनेक जत्थे कछला से गंगाजल लेकर लौट आए हैं। सुबह ये सभी गौरीशंकर मंदिर में जलाभिषेक करेंगे। एसपी ने मंदिर में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के साथ ही कांवड़ियों के गुजरने वाले रूट का भी निरीक्षण किया।

रविवार को दोपहर बाद से कांवड़ियों के लौटने का सिलसिला शुरू हो गया। कांवड़ियों का पहला पड़ा बरेली रोड स्थित खमरिया पुल स्थित आश्रम पर रहा। यहां आश्रम में कांवर्थी सेवा समिति की ओर से कांवड़ियों के जलपान एवं भंडारा की व्यवस्था की गई। इसके बाद भजन गाते हुए कांवड़ियों के जत्थे आसाम चौराहा होते हुए कृषि उत्पादन मंडी समिति परिसर में पहुंचे। यहां कांवड़ियों के भोजन और रात्रि विश्राम की व्यवस्था कई श्रद्धालुओं ने आपसी सहयोग से कर रखी है। सिटी मजिस्ट्रेट अर्चना द्विवेदी ने मंडी स्थल पर पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। एसपी बालेंदु भूषण ¨सह ने गौरीशंकर मंदिर पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था देखी। बाद में उन्होंने मंडी से गौरीशंकर मंदिर तक कांवड़ियों के पहुंचने के लिए निर्धारित रूट का भी निरीक्षण किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस