Move to Jagran APP

बीसलपुर में बाढ़ हुई विकराल; देवहा नदी का पानी मुहल्लों में घुसने से हालात खराब, सीएम पूरनपुर का करेंगे दौरा

Flood In Pilibhit Water Enter In Bisalpur बीसलपुर में देवहा नदी की बाढ़ का पानी आने से कई मुहल्लों में पानी भर गया है। बिजलीघर में पानी आने के बाद से बिजली गुल हो गई है। सीएम योगी आदित्यनाथ आज पूरनपुर क्षेत्र में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा करने आ रहे हैं। हालांकि अब शारदा नदी का जलस्तर धीरे−धीरे कम हो रहा है जो राहत भरी बात है।

By Jagran News Edited By: Abhishek Saxena Wed, 10 Jul 2024 11:01 AM (IST)
बीसलपुर में बाढ़ का पानी घुसने का दृश्य।

जागरण संवाददाता, पीलीभीत। शारदा के साथ ही देवहा नदी में अब जलस्तर में कमी आ रही है। शहर के मुहल्लों, सड़कों से बाढ़ का पानी उतर रहा है। लेकिन अब बाढ़ का पानी अब बीसलपुर में पहुंच गया है। वहां कई मुहल्लों, कॉलोनियों के साथ ही बिजलीघर में भी बाढ़ का पानी घुस गया। ऐसे में नगर सहित गांवों की बिजली ठप हो गई है। उप जिलाधिकारी ने नगर में भ्रमण करके जलभराव की स्थिति का जायजा लिया है।

देवहा नदी में आई बाढ़ का पानी शहर के मुहल्लों से धीरे धीरे उतर रहा है। यह पानी मंगलवार की रात बरखेड़ा क्षेत्र होते हुए बीसलपुर की ओर बढ़ गया। देर रात में बाढ़ का पानी बीसलपुर में पटेलनगर कॉलोनी में पहुंच गया। वहां अनेक घरों में बाढ़ का पानी घुस जाने से लोगों का काफी नुकसान हुआ है।

बीसलपुर में घुसा बाढ़ का पानी

वाहनों का आवागमन रुका

इसके अलावा मुहल्ला हबीबुल्ला खां, मुहल्ला दुबे, ग्यासपुर, पीलीभीत-शाहजहांपुर रोड पर कई फीट पानी चलने के साथ ही बारह पत्थर चौराहा पर भी पानी भरा है। साथ ही बीसलपुर-बरेली रोड पर कई फीट पानी चल रहा है। इससे वाहनों का आवागमन ठप हो गया है।

बाढ़ का पानी आने से बिजली व्यवस्था भी ठप।

नगर के बिजलीघर में भी पानी घुस गया। इससे बिजली आपूर्ति व्यवस्था ठप हो गई है। देवहा की बाढ़ का पानी धीरे धीरे जिला शाहजहांपुर की ओर बढ़ रहा है। उप जिलाधिकारी महिपाल सिंह ने सुबह कई मुहल्लों में जलभराव की स्थिति का जायजा लिया।

बीसलपुर की गलियों में बाढ़ का पानी आने से लोग हो रहे परेशान।

जिला मुख्यालय स्थित बाढ़ कंट्रोल रूम के अनुसार शारदा और देवहा दोनों नदियों का जलस्तर घट रहा है। बुधवार को सुबह नौ बजे शारदा नदी में 56 हजार 500 क्यूसेक अतिरिक्त पानी चल रहा जबकि देवहा नदी में 36 हजार 801 क्यूसेक अतिरिक्त पानी चल रहा है। दोनों नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से नीचे पहुंच गया है।

ये भी पढ़ेंः Hathras Stampede Case: भीड़ नियंत्रण पर सामने आया नया अपडेट, डेढ़ लाख अनुयायियों के लिए सिर्फ ये थी व्यवस्था

ये भी पढ़ेंः शाहजहांपुर में आफत बनी बाढ़; खन्नौत नदी खतरे के निशान से ऊपर, शहर की सड़कों पर आया पानी; कई मुहल्लों में जलभराव

मुख्यमंत्री पूरनपुर क्षेत्र में बाढ़ की स्थिति का लेंगे जायजा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूरनपुर तहसील क्षेत्र में बाढ़ की स्थिति एवं राहत कार्यों का जायजा लेने दोपहर में पहुंच रहे हैं। लखनऊ से जारी कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री पूर्वाह्न 11.30 बजे लोक भवन से कार द्वारा ला मार्टीनियर कालेज मैदान स्थित हेलीपैड के लिए रवाना होंगे। वहां से 11.40 बजे हेलीकॉप्टर से प्रस्थान करेंगे। मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर दोपहर 12.30 बजे पूरनपुर तहसील के गांव अभयपुर जगतपुर में उतरेगा।

बाढ़ शरणालय का निरीक्षण करेंगे सीएम

इसके बाद मुख्यमंत्री बाढ़ शरणालय का निरीक्षण करेंगे। दोपहर 12.50 बजे चंदिया हजारा के लिए रवाना होंगे। फिर बाढ़ राहत शिविर में पहुंचेंगे। दोपहर 1 से 1.45 बजे तक बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री का वितरण करने के साथ ही प्रेस कांफ्रेंस और फिर जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। इसके उपरांत हेलीकॉप्टर पर सवार होकर जिला लखीमपुर खीरी के लिए प्रस्थान करेंगे।