जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : प्रत्याशी मतदाताओं की नब्ज टटोल रहे है। उन्हें रिझाने को गांवों, सेक्टरों व सोसायटियों का रुख करने लगे है। विकास के बड़े-बड़े दावे हो रहे हैं। गोत्र, बिरादरी की दुहाई देकर जिताने का अनुरोध कर रहे हैं। उधर, सेक्टर, सोसायटियों के साथ ग्रामीण अंचलों में मतदाताओं ने भी प्रत्याशियों से शपथ पत्र मांगना शुरू कर दिया है। उनके हाथों में कराए जाने वाले विकास कार्यों का चिट्ठा भी थमा रहे हैं। उनका कहना है कि जो भी प्रत्याशी इन कार्यों को अपने शपथ पत्र में शामिल करेगा, उनका वोट उसी प्रत्याशी को जाएगा और वही प्रत्याशी हमारा 'भाग्य विधाता' बनेगा। बात यदि दादरी विधानसभा की करें, तो यहां प्रत्याशियों की निगाहें ग्रेनो वेस्ट की सोसायटियों पर हैं। यहां करीब साढ़े चार लाख की आबादी रहती है। करीब डेढ़ लाख से अधिक मतदाता है। ऐसे में सोसायटियों में भी प्रत्याशी व समाज के प्रबुद्ध लोगों का जमावड़ा लगने लगा है। वर्जन.. ऐसे जनप्रतिनिधि को चुनेंगे जो शिक्षा, स्वास्थ्य व क्षेत्र के विकास करे। जो मांगों को पूरा करेगा, हमारा मत उसे ही मिलेगा। इसके लिए प्रत्याशियों से शपथ पत्र लिया जाएगा।

-मेजर कुंवर सिंह राणा, एडब्ल्यूएचओ सोसायटी

----- फ्लैट रजिस्ट्री, ट्रांसपोर्ट, ग्रीन बेल्ट पर अतिक्रमण, नक्शे में अनावश्यक बदलाव तथा फायर सेफ्टी के नियम लागू करना ऐसे कई मुद्दे हैं, जिन पर कोई काम नहीं हुआ है। उसी प्रत्याशी को वोट देंगे, जो शहर के विकास पर ध्यान देगा।

- अमित शर्मा, गौर सिटी

----- उस प्रत्याशी को वोट देंगे, जो शहर के विकास पर ध्यान देगा। ग्रेनो वेस्ट में स्वास्थ्य, परिवहन, खेल मैदान समेत मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। इस ओर ध्यान देने की जरूरत है।

-मनीष, एडवोकेट, स्टेलर जीवन इतनी आबादी होने के बाद भी परिवहन व्यवस्था नहीं है। लोग निजी वाहनों पर निर्भर है। ऐसा विधायक चाहिए जो मूलभूत सुविधाओं पर ध्यान दे। शिक्षा, स्वास्थ्य, अच्छी सड़कें, स्वच्छ पानी, फ्लैट रजिस्ट्री कराए। जो चुनाव जीतने के बाद लोगों के बीच रहे।

-आशीष पांडेय, पंचशील हायनिश

Edited By: Jagran