ग्रेटर नोएडा [मनीष तिवारी]। लंकापति रावण जितना विद्वान उससे कहीं अधिक शक्तिशाली। रावण की असीम शक्तियों का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि देवता भी उसके बंधक बने थे। तीनों लोकों में रावण की शक्ति का डंका बजता था। एक से बढ़कर एक महारथी और भारी भरकम सेना रखने वाले लंकापति को कलयुग में सुरक्षा के लिए पुलिस का सहारा है। असामाजिक तत्वों से रावण के पुतलों को किसी प्रकार का नुकसान न पहुंचे इसे देखते हुए सुरक्षा में पुलिस के जवान तैनात होंगे।

रावण के बुरे कर्मों की वजह से सदियों बाद भी लोग दशहरे पर उसका पुतला जलाते हैं। पुतले को जलाकर बुराई पर अच्छाई की जीत मनाई जाती है। रावण के साथ ही उसके भाई कुंभकरण व मेघनाद का पुतला भी जलाया जाता है।

पुतला बनाने में खर्च होती है भारी-भरकम रकम

साल दर साल रावण, मेघनाद व कुंभकरण के पुतलों की लंबाई भी बढ़ती जा रही है। लीला मंचन समितियों के द्वारा 50 से 60 फीट तक विशाल पुतले तैयार कराए जाते हैं। कलाकारों की टीम दो सप्ताह की कड़ी मेहनत के बाद पुतले तैयार करती है। जिस पर लाखों रुपये का खर्च होता है।

रावण दहन तक इन पुतलों की सुरक्षा सबसे बड़ी चुनौती होती है। रामलीला स्थल पर प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग पहुंचते हैं। इन लोगों की आड़ में असामाजिक तत्व रावण, मेघनाद व कुंभकरण के पुतलों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसलिए इनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस के जवानों के कंधे पर होती है।

स्थानीय पुलिस करती है पुतलों की सुरक्षा

नियम में यह उल्लखित है जहां पर रावण के पुतलों का निर्माण व दहन होगा, वहां पुलिस सुरक्षा में तैनात होगी। पुतलों का निर्माण लगभग पूरा हो गया है। पुतलों को खड़ा करने की तैयारी शुरू हो गई है। इसे देखते हुए पुलिस भी सतर्क हो गई है। लीला स्थल पर पहुंचकर पुलिस अधिकारियों ने सुरक्षा का जायजा लेना शुरू कर दिया है। रावण दहन के दिन पुलिस के जवान सुरक्षा में तैनात रहेंगे। एसएसपी वैभव कृष्ण का कहना है लीला मंचन के साथ ही पुतलों की सुरक्षा की जिम्मेदारी स्थानीय थाना क्षेत्र की होती है। संबंधित थाना पुलिस को सुरक्षा के लिए निर्देश दिए गए हैं। बता दें कि मंगलवार को दशहरा है और विभिन्न जगहों पर रावण के पुतलों को जलाया जाएगा।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस