Move to Jagran APP

Noida: शादी का झांसा देकर युवक का कराया खतना, लड़की के माता-पिता समेत चार को पुलिस ने दबोचा

बुलंदशहर के हिंदू युवक को झांसे में लेकर खतना कराने के मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों में मुस्लिम लड़की के माता-पिता और दो अन्य लोग शामिल हैं। इंटरनेट मीडिया पर वीडियो प्रसारित होने के बाद हरकत में आई पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था। वहीं पुलिस ने युवक का मतांतरण होने की बात से इनकार किया है।

By Gaurav SharmaEdited By: Shyamji TiwariPublished: Thu, 27 Jul 2023 12:42 AM (IST)Updated: Thu, 27 Jul 2023 12:42 AM (IST)
शादी का झांसा देकर युवक का कराया खतना, चार गिरफ्तार

नोएडा, जागरण संवाददाता। बुलंदशहर के हिंदू युवक को झांसे में लेकर खतना कराने के मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों में मुस्लिम लड़की के माता-पिता और दो अन्य लोग शामिल हैं। इंटरनेट मीडिया पर वीडियो प्रसारित होने के बाद हरकत में आई पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था।

वहीं पुलिस ने युवक का मतांतरण होने की बात से इनकार किया है। बुधवार को एक वीडियो इंटरनेट मीडिया पर प्रसारित हो रहा था। वीडियो में पीड़ित युवक ने बताया कि वह नोएडा के कोतवाली फेज-टू क्षेत्र स्थित एक कंपनी नौकरी करता है। वहीं पर उसकी दोस्ती कंपनी में काम करने वाली मुस्लिम लड़की से हो गई।

शादी के लिए खतना की रखी शर्त

दोनों शादी करना चाहते हैं, जिसके चलते उसकी प्रेमिका ने अपने स्वजन से बातचीत की थी, लेकिन उन्होंने इसका विरोध किया। लड़की द्वारा स्वजन पर दवाब बनाया तो वह सशर्त शादी करने को तैयार हुए। उन्होंने शर्त रखी यदि युवक खतना (जननांग का हिस्सा काटना) कराने को तैयार है तो वह शादी कर देंगे।

युवक का आरोप है कि 21 जुलाई को प्रेमिका के स्वजन ने उसे बातचीत करने के लिए अपने घर बुलाया, जहां पर आरोपित पक्ष के एक चिकित्सक समेत चार लोगों ने उसे बंधक बना लिया और जबरन खतना कर दिया। साथ ही मारपीट करते हुए मतांतरण के लिए दबाव बनाया गया। पीड़ित ने बताया कि उसकी प्रेमिका ने अपनी मां के फोन से उसके स्वजन को सूचना दी, जिसके बाद स्वजन ने वहां पहुंचकर उसे बंधनमुक्त कराया।

कोतवाली ईकोटेक-तीन पुलिस ने कार्रवाई करते हुए लड़की के पिता जमीन, मां नजराना, कथित डाक्टर मसरूफ और जमाल को गिरफ्तार कर लिया। डीसीपी सेंट्रल जोन अनिल यादव ने बताया कि युवक ने अपनी सहमति से खतना कराया था। उसे खतना कराने के लिए लड़की के माता-पिता ने उकसाया था। जिसके लिए कार्रवाई की है।

2200 रुपये में कराया था खतना

डीसीपी ने बताया कि युवक ने जून में युवती के स्वजन के कहने पर मसरूफ से संपर्क किया। मसरूफ ने खतना कराने की एवज में 2200 रुपये लिए। जिसमें से 1100 रुपये जमाल को दिए। उन्होंने बताया कि युवक ने अभी तक मतांतरण नहीं किया है।

100 गज के प्लाट पर बिगड़ा मामला

डीसीपी ने बताया कि युवती के स्वजन ने युवक के सामने एक शर्त और रखी थी। करीब एक माह पहले कहा था कि वह युवती के नाम नोएडा में 100 गज का प्लाट खरीदकर देगा, लेकिन युवक धनराशि एकत्र नहीं कर सका। जिस पर युवती के स्वजन ने अपना वादा तोड़ दिया।

बालिग नहीं नाबालिग है लड़की

डीसीपी ने बताया कि लड़की की उम्र अभी महज 17 वर्ष है, जबकि युवकी की उम्र 21 वर्ष है। दो माह पहले मई में लड़की अचानक लापता हो गई थी। इसके संबंध में उसके स्वजन ने कोतवाली फेज-दो में मुकदमा भी दर्ज कराया था। करीब 15 दिन बाद लड़की वापस लौटी और उसने बताया कि वह मुंबई चली गई थी। जिसके बाद स्वजन ने आगे कोई कार्रवाई करने से इन्कार कर दिया था।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.