नोएडा [रजनी कान्त मिश्र]। Positive India: संकट की घड़ी में बरेली की तमन्ना के लिए नोएडा पुलिस मसीहा बन गई। पुलिस ने मानवता की मिसाल पेश करते हुए बरेली में मौजूद गर्भवती महिला के पास नोएडा में फंसे उसके पति को पहुंचाया है। प्रसव पीड़ा से परेशान महिला ने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी कर अपना दर्द बयां किया था। बरेली पुलिस ने उसे संज्ञान लेते हुए नोएडा पुलिस से संपर्क किया और फिर नोएडा पुलिस ने महिला के पति को बुधवार रात में सकुशल बरेली पहुंचा दिया।

पति के पहुंचने के कुछ ही देर बाद महिला ने एक स्वस्थ बच्चे (बेटे) को जन्म दिया है। महिला ने पति और नवजात बच्चे के साथ अपनी वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर कर बरेली व नोएडा पुलिस के इस कार्य की सराहना की है।

एडिश्नल डीसीपी नोएडा रणविजय सिंह ने बताया कि बुधवार रात करीब सवा नौ बजे एसएसपी बरेली ने फोन कर उन्हें बताया कि बरेली की एक महिला का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। महिला गर्भवती है व उसके पति नोएडा में फंसे हुए हैं। महिला की डिलीवरी का समय है।

वीडियो देख नोएडा पुलिस की टीम ने मदद शुरू की। सोशल मीडिया के जरिए संपर्क करने की कोशिश शुरू हुई थी कि बरेली पुलिस की तरफ से महिला का नंबर भी उपलब्ध कराया गया। जानकारी मिली कि महिला का नाम तमन्ना अली खान है।

उसके पति अनीस खान सेक्टर 5 स्थित एक्सपोर्ट कंपनी में काम करते हैं। महिला की 23 मार्च की डिलीवरी की ड्यू डेट थी। स्थिति गंभीर देखते हुए काफी प्रयास कर कुछ ही घंटे में कार बुक कर उसके पति को रात करीब सवा 11 बजे नोएडा से बरेली के लिए भेज दिया गया।

एडीसीपी ने बताया कि रात करीब ढाई बजे अनीस बरेली पहुंचे व उसके कुछ देर बाद ही महिला ने बच्चे को जन्म दिया। महिला इतनी परेशान थी कि चैटिंग के दौरान यह तक कह दिया कि अगर मुझे बेटा हुआ तो उसका नाम रणविजय रखूंगी।

महिला ने बच्चे को जन्म देने के बाद वीडियो जारी कर पुलिस को धन्यवाद दिया है। उधर, तमन्ना ने दैनिक जागरण से बातचीत में नोएडा पुलिस व एडिश्नल डीसीपी को धन्यवाद देते हुए कहा कि अगर आज वह जिंदा है तो इन्ही लोगों की वजह से है।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस