Move to Jagran APP

Noida: छह रियल एस्टेट कंपनियों पर मुकदमा दर्ज, जुर्माना भी लगा; पढ़िए क्या है पूरा मामला

नोएडा प्राधिकरण ने छह बिल्डरों पर बड़ी कार्रवाई की गई है। थाना प्रभारी निरीक्षण द्वारा मुकदमा दर्ज कराया गया है। जिसके आधार पर कंपनियों पर कार्रवाई हुई है। साथ ही इन कंपनियों पर जुर्माना भी लगाया गया है। बताया गया कि नोटिस देने के बाद भी बिल्डर कार्य नहीं रोक रहे थे जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है। जानिए आखिर रियल एस्टेट कंपनियों को लेकर पूरा मामला क्या है।

By Jagran News Edited By: Kapil Kumar Wed, 10 Jul 2024 05:38 PM (IST)
नोएडा में छह बिल्डरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ। (सांकेतिक तस्वीर)

जागरण संवाददाता, नोएडा। अवैध तरीके से भूजल दोहन करने पर सेक्टर-153, 154, 156 में छह बिल्डर पर नोएडा प्राधिकरण ने बड़ी कार्रवाई की है। आवंटित भूखंडों के स्वामियों पर पंपिंग सेट डी वाटरिंग करने के आरोप पर प्रभारी निरीक्षक थाना नालेज पार्क ग्रेटर नोएडा के माध्यम से केस दर्ज कराकर जुर्माना लगाया गया है।

इन कंपनियों पर लगाया गया जुर्माना

उक्त कंपनियों पर कितना जुर्माना लगाया गया, यह अभी स्पष्ट नहीं किया गया है। इसमें बिल्डर यूनिएक्सएल डेवलपर प्राइवेट लिमिटेड, मोंट्री एंट्री प्राइवेट लिमिटेड, जैम विजन टेक प्राइवेट लिमिटेड, किंग पेसइन्फारमेशन प्राइवेट लिमिटेड, वेक्सटेक कंडोमिनियम प्राइवेट लिमिटेड, मदर्सन सुमी इन्फोटेक एंड डिजाइन की परियोजनाओं के नाम शामिल हैं।

नोटिस के बाद भी बिल्डरों ने कार्य नहीं रोका

बताया जा रहा है कि समय-समय पर प्राधिकरण कर्मियों की ओर से भूखंड स्वामियों को डी वाटरिंग के लिए रोका जा रहा था। वहीं, तमाम नोटिस के बाद भी बिल्डरों ने कार्य नहीं रोका, जबकि आमजन इसकी शिकायत विभिन्न इंटरनेट मीडिया प्लेटफार्म से नोएडा प्राधिकरण में कर रहे थे।

प्राधिकरण ने एफआईआर तीन जून को ही दर्ज करा दी थी, लेकिन इसकी जानकारी आज मंगलवार को दी गई।