नोएडा/गुरुग्राम, प्रेट्र। एनसीआर के नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गुरुग्राम में करीब 1.09 लाख घर बिक्री की राह देख रहे हैं। प्रॉपर्टी ब्रोकरेज कंपनी प्रॉपटाइगर के मुताबिक, इनमें से 54 फीसद घर ऐसे हैं, जो 45 लाख या इससे कम कीमत के हैं। यह आंकड़े इसी वर्ष जुलाई के हैं। हालांकि उम्मीद है कि होम लोन पर ब्याज दरों में कटौती और 45 लाख रुपये तक की कीमत वाले घरों पर 1.5 लाख रुपये की अतिरिक्त कर छूट के बाद किफायती मूल्य वाले घरों की बिक्री में तेजी आएगी।

प्रॉपटाइगर ने बताया कि एनसीआर के मार्केट में रियल एस्टेट डेवलपर्स के पास जुलाई, 2019 तक कुल 1,08,937 बिना बिकी प्रॉपर्टी थी। इनमें से 58,516 प्रॉपर्टी की कीमत 45 लाख या इससे कम है।

भिवाड़ी, रेवाड़ी, नीमराना और धारूहेड़ा के लोगों के लिए भी मौका

गुरुग्राम के मार्केट में भिवाड़ी, रेवाड़ी, नीमराना और धारूहेड़ा भी शामिल हैं। प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के स्वामित्व वाली एलारा टेक्नोलॉजीज के सीओओ मणि रंगराजन के मुताबिक बिल्डर्स पर इन्सॉल्वेंसी के बढ़ते मामलों के चलते एनसीआर के मार्केट पर बुरा असर पड़ा है। खासकर नोएडा के प्रॉपर्टी बाजार इससे अधिक प्रभावित हुए हैं। बिक्री में कमी की वजह से बिल्डर्स के पास प्रॉपर्टी का स्टॉक जमा हो गया है।

घर बिकने में 28 महीने का समय लगेगा

फिलहाल जिस गति से बिक्री हो रही उससे नोएडा और ग्रेटर नोएडा के प्रॉपर्टी स्टॉक को बिकने में लगभग साढ़े तीन साल का वक्त लग जाएगा। गुरुग्राम के पहले से मौजूद स्टॉक को बिकने में 28 महीने का समय लगेगा। रंगराजन ने कहा कि सेक्टर के लिए स्थिति चिंताजनक है, लेकिन सरकार जिस तरह से ब्याज दरों में रिकॉर्ड छूट और दूसरे टैक्स लाभ दे रही है, उस हिसाब से ग्राहकों के लिए यह बने- बनाए घर खरीदने का अच्छा मौका है।

घर की खरीद पर 1.50 लाख रुपये की अतिरिक्त कर छूट

गौरतलब है कि सरकार ने इस वर्ष के बजट में 45 लाख रुपये तक के घर की खरीद पर 1.50 लाख रुपये की अतिरिक्त कर छूट देने की घोषणा की प्रॉपर्टी में निवेश पर जीएसटी में भी छूट दी गई है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि इन प्रॉपर्टी बाजारों में कीमत में कमी भी आई है। पिछले तीन वर्षों के दौरान गुरुग्राम की प्रॉपर्टी की कीमतों में 10 परसेंट तक की गिरावट आई है, जबकि इसी दौरान नोएडा में 2.5 परसेंट की गिरावट दर्ज की गई है। नोएडा में इस समय जमीन की कीमत 3,900 रुपये प्रति वर्गफुट और गुरुग्राम में 4,950 रुपये प्रति वर्गफुट है।

ये भी पढ़ेंः Delhi Metro: अब दिल्ली के लोग मेट्रोलाइट ट्रेन में भी कर सकेंगे सफर, जानिए इसकी खूबियां

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप