दादरी [राजीव वशिष्ठ]। दिल्‍ली से सटे नोएडा से एक वीडियो सामने आया है। मौत के इस वीडियो में जो मंजर दिख रहा है वह काफी खौफनाक है। कमजोर दिल वालों के लिए एक चेतावनी है कि वह इस वीडियो को ना देखें। दिल को दहलाने वाले इस वीडियो में पहले एक शख्‍स ट्रक (कैंटर) को रोकता दिख रहा है। इसी बीच वह पीछे करने लगता है , हालांकि इसके बाद वीडियो में जो दृश्‍य उभ्‍र कर सामने आता है वह काफी खौफनाक और दिल को दहलाने वाला है। 

कैंटर रोकने के दौरान हुआ हादसा

कैंटर को रोकने के लिए वह आगे आ जाता है और इसी बीच कैंटर चालक गाड़ी आगे बढ़ा देता है। विरोध के दौरान वह ऊपर चढ़ने का प्रयास करता है मगर वह चढ़ नहीं पाता है और चक्‍के के नीचे आ जाता है। इसे देख कर किसी की भी रूह कांप जाएगी। आइए जानते हैं पूरा मामाल। 

रोडरेज का है मामला
दादरी कोतवाली क्षेत्र के ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे के टोल प्लाजा पर शुक्रवार देर रात कार सवार युवक की मौत का कारण रोडरेज के कारण हुआ विवाद बताया जा रहा है। कैंटर पर फास्टैग न लगा होने के बावजूद चालक फास्टैग लेन में आ गया था, तभी टोलकर्मी कैंटर चालक को कैश लेन में भेज रहे थे, तभी फास्टैग लेन पर एक कार आकर रुकी थी। इसे लेकर कैंटर चालक व कार चालक में विवाद हुआ था। इस दौरान कार चालक कैंटर की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गया।

परिजनों ने नहीं की लिखित शिकायत

युवक का साथी ने घायल को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। युवक की पहचान लड़पुरा गांव के अजय भाटी के रूप में हुई है। पुलिस को मृतक के स्वजन ने लिखित शिकायत नहीं दी है। पुलिस ने बताया कि शुक्रवार रात करीब 11 बजे दादरी क्षेत्र में ईस्टर्न एक्सप्रेस वे के टोल नंबर 18 पर एक आयशर कैंटर आकर रुका।

नहीं लगा था फास्‍टैग स्‍टीकर

कैंटर पर फास्टैग न होने के कारण टोलकर्मी उसे दूसरी लेन में भेज रहे थे, तभी टोल नंबर 17 पर एक कार आकर रुकी। कार में सवार अजय भाटी ने कैंटर की खिड़की पर पहुंचकर कैंटर चालक को बाहर खींचने का प्रयास किया।

वाइपर पकड़ कर चढ़ रहा था ऊपर

कैंटर की खिड़की बंद होने के कारण अजय कैंटर के शीशे पर लगे बाइपर पकड़कर ऊपर चढ़ने का प्रयास किया, तभी वाइपर टूट गया और वह कैंटर से नीचे गिर गया। इस दौरान कैंटर चालक ने गति बढ़ा दी और अजय को कुचलते हुए मौके से फरार हो गया। तभी कार में सवार अजय के दोस्तों ने घायल अवस्था में अजय को ग्रेटर नोएडा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां देर रात उसकी मौत हो गई। सूत्रों का कहना है कि लड़पुरा निवासी अजय भाटी की दो वर्ष पहले शादी हुई थी।

ग्रेटर नोएडा में तीन माह से कर रहा था नौकरी

वह ग्रेटर नोएडा की एक निजी कंपनी में तीन माह से नौकरी कर रहा था। शुक्रवार रात वह चार साथियों के साथ ड्यूटी के बाद गांव लौट रहा था। इमलिया गांव के पास तेज गति से आ रहे कैंटर ने पीछे से कार में टक्कर मार कर भाग गया था। अजय भाटी अपने साथियों को बील अकबरपुर छोड़ने आ रहा था। जैसे ही वह बील अकबरपुर गांव के टोल नंबर 16 पर रुका, तभी उसे टोल नंबर 18 पर वह कैंटर दिखाई दिया था। तभी अजय भाटी कार से उतरकर कैंटर चालक के पास पहुंचा था। शनिवार देर शाम तक पुलिस को कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है।

पुलिस का पक्ष

वीआईटी पुलिस चौकी प्रभारी यशपाल शर्मा ने बताया कि अभी तक कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है। शिकायत मिलने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस