ग्रेटर नोएडा, जागरण संवाददाता। बिसरख ब्लॉक प्रमुख पद के लिए शनिवार सुबह से ब्लॉक कार्यालय पर मतदान जारी है। ब्लॉक प्रमुख पद के लिए 2 लोगों ने नामांकन किया है। इससे पहले शुक्रवार को नाम वापस लिए जाने थे। किसी ने भी नाम वापस नहीं लिया। वहीं, शनिवार सुबह से मतदान के दौरान ब्लॉक कार्यालय पर सुरक्षा पुख्ता है। जेवर व दादरी ब्लॉक प्रमुख पहले निर्विरोध निर्वाचित हो चुके हैं, सिर्फ बिसरख ब्लॉक के लिए मतदान हो रहा है। 

जिले में तीन ब्लाक जेवर, दादरी व बिसरख हैं। जेवर पर मुन्नी देवी व दादरी पर बिजेंद्र भाटी निर्विरोध चुन लिए गए हैं। बिसरख ब्लॉक पर अप्रीत कौर व रुचि ने नामांकन दाखिल किया, लेकिन दोनों प्रत्याशी भाजपा से टिकट मांग रहे थे, लेकिन पार्टी ने किसी को भी टिकट नहीं दिया। ऐसे में दोनों प्रत्याशियों के बीच कड़ा मुकाबला होने की उम्मीद जताई जा रही है।

बिसरख ब्लॉक में 38 क्षेत्र पंचायत सदस्य हैं। मतदान में उन्हीं के द्वारा वोट डाला जा रहा है। मतदान की प्रक्रिया ब्लॉक के मतदान अधिकारी एसडीएम प्रसून द्विवेदी के द्वारा संपन्न कराई जा रही है। मतदान के दौरान ब्लॉक के आस-पास सुरक्षा के लिए पुलिसकर्मी तैनात हैं।

एडीएम वंदिता श्रीवास्तव ने बताया कि बिसरख ब्लाक में मतदान सुबह 11 से शुरू हुआ जो तीन बजे तक होगा। शाम को लगभग पांच बजे तक परिणाम की घोषणा की जाएगी। मतदान के पूरे समय की वीडियोग्राफी कराई जा रही है। बैगनी रंग की स्याही से मतदान हो रहा है। वहीं जिन प्रत्याशियों को सुरक्षा मिली है, उनके साथ सुरक्षाकर्मी मतदान कक्ष में नहीं जा सकेंगे। साथ ही मतदान कक्ष के अंदर मोबाइल का प्रयोग प्रतिबंधित है। निर्देश दिया है कि प्रत्याशियों की सुरक्षा की समीक्षा कर ली जाए। प्रत्याशियों की मांग पर उन्हें सुरक्षा उपलब्ध कराई जाए। मतदान व मतगणना स्थल के सौ मीटर की परिधि में पुलिसकर्मियों का प्रवेश भी प्रतिबंधित रहेगा।

ऐसे हो रहा मतदान

मतदान के लिए सभी क्षेत्र पंचायत सदस्यों को मतपत्र दिया जा जा रहा है। जिस पर चुनाव लड़ने वाले दोनों प्रत्याशियों का नाम अंकित है। मतदाता जिस प्रत्याशी को वोट देना चाहेंगे उसके नाम के सामने अंग्रेजी में एक लिखना होगा। इसके लिए बैगनी रंग का स्कैच पेन प्रशासन उपलब्ध कराएगा। 38 में से आठ मतदाता ने कहा था कि वह लिखना नहीं जाते हैं इस कारण मतदान के लिए एक सहयोगी दिया जाए। आठ में से सात क्षेत्र पंचायत सदस्य ने अपने चुनाव में हस्ताक्षर किया था। उनकी मांग निरस्त कर दी गई। सिर्फ एक को सहयोगी प्रदान किया जाएगा।

Edited By: Jp Yadav