ग्रेटर नोएडा, जेएनएन। दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (Yamuna Expressway Industrial Development Authority) क्षेत्र में प्रस्तावित जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jewar international Airport) की घोषणा के बाद से यमुना प्राधिकरण क्षेत्र निवेशकों की पसंद बन गया है।

50,000 लोगों को मिलेगा रोजगार

ऐसा माना जा रहा है कि आने वाले समय में यहां पर रोजगार के तमाम अवसर पैदा होंगे। यहां पर हर क्षेत्र में रोजगार मिलेगा। दरअसल, प्राधिकरण ने करीब डेढ़ साल में 180 इकाइयों के लिए जमीन आवंटन की है। इसमें करीब 50,000 लोगों को रोजगार मिलने की बात कही जा रही है।

रंग लाई यूपी सरकार की कोशिश

उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh government) ने प्रदेश समेत प्राधिकरण क्षेत्र में निवेश को आकर्षित करने के लिए सम्मेलन आयोजित किया था। इसमें भागीदारी करने वाले निवेशकों ने यमुना प्राधिकरण क्षेत्र को भी निवेश के लिए चुना। जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की वजह से यमुना प्राधिकरण क्षेत्र निवेशकों की नजर में आ चुका है।

342 एकड़ भूमि का आवंटन

यहां पर बता दें कि प्राधिकरण क्षेत्र में निवेश के लिए विभिन्न कंपनियों ने आवेदन किया था। इसके बड़ी कंपनियों ने खासी रुचि दिखाई थी। इस बीच जानकारी सामने आई है कि प्राधिकरण 180 इकाइयों के लिए 342 एकड़ जमीन आवंटित कर चुका है।

एक अनुमान के मुताबिक, यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में करीब सात हजार करोड़ का निवेश होगा। प्राधिकरण क्षेत्र में निवेश करने वाली कंपनियों में मोबाइल, इलेक्ट्रानिक्स, कपड़ा, खाद्य प्रसंस्करण आदि शामिल हैं। कई और कंपनियों के आवेदन अभी विचाराधीन है। अगर उन्होंने भी आवेदन किया और 

शैलेंद्र भाटिया (ओएसडी, यमुना प्राधिकरण) का कहना है कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के कारण प्राधिकरण क्षेत्र में निवेश के लिए रुचि बढ़ी है। बड़े पैमाने पर निवेश से क्षेत्र में औद्योगिक विकास और रोजगार सृजन होगा। 

पिछले कुछ महीनों के दौरान यमुना औद्योगिक क्षेत्र में उद्योग लगाने के लिए सिर्फ देशी ही नहीं, बल्कि विदेशी निवेशकों ने भी रुचि दिखाई है। 

यहां पर बता दें कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट देश का सबसे बड़ा और दुनिया का चौथा बड़ा एयरपोर्ट बनने जा रहा है। दिल्ली-एनसीआर के तीसरे एयर पोर्ट तक अब मेट्रो भी पहुंचेगी। इसकी भी तैयारी की जा रही है, जिससे यहां पर रोजगार में और इजाफा होगा। सैलानियों के आगमन की वजह से यहां पर रेस्तरां, होटल के अलावा कई अन्य उद्यम स्थापित होंगे और लोगों को काम भी मिलेगा।

लाखों छात्रों को बड़े तोहफे की तैयारी में मोदी सरकार, Delhi Metro के किराये में छूट संभव

नौकरी की गारंटी वाली पढ़ाई कराएगी AAP सरकार, 85% सीटें दिल्ली वालों के लिए आरक्षित होंगी

Delhi assembly Election 2020: AAP-भाजपा के खिलाफ सोनिया गांधी चल सकती हैं ये बड़ा दांव

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक 

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप