जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : प्राथमिक विद्यालय अब मूलभूत सुविधाओं से लैस होंगे। इसके लिए जिला प्रशासन ने कार्ययोजना तैयार कर ली है। इसके के तहत 180 प्राथमिक विद्यालयों में ग्राम निधि के मद से विकास कार्य संपन्न कराएं जाएंगे। जिला पंचायती राज विभाग के मुताबिक स्कूलों में मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराने को 11 बिदुओं पर पड़ताल की गई है। प्राथमिक स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को बेहतर सुविधा मुहैया कराने को मुख्य सचिव ने आदेशित किया है। सीडीओ अनिल कुमार सिंह की अध्यक्षता में सोमवार को विकास भवन सभागार में एक बैठक भी हुई। बैठक में संबंधित अधिकारियों ने स्कूलों में होने वाले विकास कार्यों का खाका तैयार किया। बता दें कि वर्तमान में जिले में 471 प्राथमिक, 214 उच्च प्राथमिक व तीन कस्तूरबा गांधी विद्यालय हैं। इन स्कूलों में करीब 87 हजार बच्चे अध्यन्नरत हैं। शासन के आदेश पर जिन गांवों में पंचायती राज व्यवस्था कायम है। उन गांवों के स्कूलों में राज्य वित्त व 14 वें वित्त की धनराशि से स्कूलों में ऑपरेशन कायाकल्प के तहत ब्लैक बोर्ड, शौचालय, पीने के पानी की व्यवस्था, स्कूल की चारदीवारी, फर्श, बिजली, फर्नीचर, इंटरलॉकिग टाइल्स, रंगाई पुताई आदि सुविधाएं उपलब्ध करानी होंगी। जिला पंचायती राज विभाग के मुताबिक ग्राम निधि के खाते में ऑपरेशन कायाकल्प के तहत स्कूलों को मूलभूत सुविधाओं से लैस किया जाएगा। -प्राथमिक स्कूलों के सुंदरीकरण के साथ मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। इसके लिए ग्रामीण अंचलों में स्थित 160 विद्यालयों का सर्वें कर कार्ययोजना तैयार कर ली गई है। 31 मार्च 2020 तक सभी स्कूल मूलभूत सुविधाओं से लैस होंगे। शासन के निर्देश पर ग्राम निधि की धनराशि से स्कूलों का कायाकल्प किया जाएगा। जो ग्राम प्रधान व पंचायत सचिव शासन की मंशा अनुरूप कार्य नहीं करेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

-कुंवर सिंह यादव, जिला पंचायत राज अधिकारी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस