जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : शासन से पंचायती राज विभाग को पंचायत भवन निर्माण के लिए बजट भेजा है। जिसके बाद पंचायती राज विभाग ने गांवों में भवन निर्माण के लिए जमीन की तलाश शुरू कर दी है। शासन ने तीन पंचायत भवन निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किया है। पंचायत भवन बनने से ग्रामीणों को पंचायत करने की सुविधा के साथ ही शादी व अन्य कार्यक्रम आयोजित करने में मदद मिलेगी। जिले की सौ ग्राम पंचायतों में पंचायती राज व्यवस्था शेष है। बावजूद इसके ज्यादातर ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन नहीं है। लोग काफी दिनों से ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन निर्माण की मांग कर रहे थे। जिसके बाद पंचायती राज विभाग ने पंचायत भवन निर्माण के लिए प्रस्ताव भेजा था, लेकिन शासन ने मात्र तीन गांवों के लिए ही पंचायत भवन निर्माण की धनराशि आवंटित की है। एक पंचायत भवन निर्माण के लिए करीब साढ़े 17 लाख रुपये का बजट मिला है। पंचायती राज विभाग के मुताबिक आधा दर्जन गांवों में पंचायत भवन निर्माण की मांग शासन से की गई थी, लेकिन शासन ने बजट आवंटन करते हुए मात्र तीन गांवों में पंचायत भवन निर्माण की स्वीकृति दी है। शासन से स्वीकृति मिलने के बाद ऐसे गांवों की तलाश की जा रही है। जिनमें गांवों के समीप ग्राम समाज की जमीन है। जमीन पर किसी तरह का कोई विवाद न हो।

--------------

पंचायत भवन निर्माण के लिए शासन से बजट मिल गया है। बजट मिलने के बाद ग्राम पंचायतों से प्रस्ताव मांगे गए हैं।

-वीरेंद्र यादव, जिला पंचायती राज अधिकारी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस