जासं, ग्रेटर नोएडा : सीबीएसई की बारहवीं की परीक्षा में अपराजिता शर्मा ने 98.8 फीसद अंक हासिल किए हैं। वह दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) की छात्रा है। उनका सपना मनोविज्ञानी बनने का है।

अपराजिता के पिता अजय शर्मा व्यवसायी हैं। मां आशिमा शर्मा निजी कंपनी में मानव संसाधन विभाग में प्रबंधक के पद पर कार्यरत हैं। अपराजिता बताती हैं कि काफी मेहनत की थी। उसी मेहनत का नतीजा है कि अच्छे अंक आए हैं। वह रोजाना दो से तीन घंटे पढ़ाई करती थीं। स्कूल में नोट्स बनाने के बाद घर पर दोहराती थीं। इससे परीक्षा के समय काफी फायदा मिला। वह मनोविज्ञान में पीएचडी करना चाहती हैं।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस